• पत्नी: अजी सुनते ही, यह मिर्ची किस मौसम में लगती है?<br />
पति: कोई ख़ास मौसम नहीं है, जब सच बात बोलो तब लग जाती है।Upload to Facebook
    पत्नी: अजी सुनते ही, यह मिर्ची किस मौसम में लगती है?
    पति: कोई ख़ास मौसम नहीं है, जब सच बात बोलो तब लग जाती है।
  • टेक्नोलॉजी के जमाने में सब कुछ बदला है।
    पहले जो "कट्टी" हुआ करती थी अब उसे "Block" के नाम से जाना जाता है।
  • कितनी अजीब दुनिया हैं, जहाँ औरतें 'दूसरी औरतों' की शिकायते करते नहीं थकती;
    जबकि पुरूष 'दूसरी औरतों' की तारीफ करते नहीं थकते।
    पुरुष सच में महान हैं।
  • आज का ज्ञान:<br />
लड़की के नखरे और एक इंजिनियर के इम्तिहान कभी ख़त्म नही होते।Upload to Facebook
    आज का ज्ञान:
    लड़की के नखरे और एक इंजिनियर के इम्तिहान कभी ख़त्म नही होते।
  • भगवान से हर वक़्त शिकायत रखने वालो,<BR>
भगवान ने तुम्हारा पेट भरने की जिम्मेदारी ली है... तुम्हारी पेटी भरने की नहीं।Upload to Facebook
    भगवान से हर वक़्त शिकायत रखने वालो,
    भगवान ने तुम्हारा पेट भरने की जिम्मेदारी ली है... तुम्हारी पेटी भरने की नहीं।
  • समोसे वाले ने भी अब दो समोसे के 30/- रु के कर दिय़े। रेट बढाने का कारण पूछा तो बोला, "20 तो उसका रेट है और 10 की सब्सिडी आपके बैंक खाते में जमा होगी।
  • फेसबुक पर लङकियों द्वारा खुद अपनी 'Selfie' पोस्ट कर खुद ही उसे 'like' करना और पहला 'comment' भी खुद करना "Women Empowerment" का सबसे बड़ा उदाहरण है।
  • लडकी: तुम ने मुझ में क्या देखा जो मुझ से शादी करना चाहते हो?<br />
लडका: मैं 'FabIndia' मे काम करता हूँ, तुम वहाँ कपडे खरीदने आई थी ना।Upload to Facebook
    लडकी: तुम ने मुझ में क्या देखा जो मुझ से शादी करना चाहते हो?
    लडका: मैं 'FabIndia' मे काम करता हूँ, तुम वहाँ कपडे खरीदने आई थी ना।
  • जब मैं छोटा बच्चा था तो अँधेरे से डर लगता था,
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    अब बिजली का बिल देख कर रौशनी से डर लगता है।
  • समय की कीमत पेपर से पूछो,<br />
जो सुबह चाय के साथ होता है, वही रात को रद्दी हो जाता है।Upload to Facebook
    समय की कीमत पेपर से पूछो,
    जो सुबह चाय के साथ होता है, वही रात को रद्दी हो जाता है।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT