• माँ ने रख दी आखिरी रोटी भी मेरी थाली में;<br/>
मै पागल फिर भी खुदा की तलाश करता हूँ।Upload to Facebook
    माँ ने रख दी आखिरी रोटी भी मेरी थाली में;
    मै पागल फिर भी खुदा की तलाश करता हूँ।
  • ज़िन्दगी ने मेरे मर्ज़ का एक बढ़िया इलाज़ बताया,<br/>
वक़्त को दवा कहा और ख्वाहिशों से परहेज़ बताया।Upload to Facebook
    ज़िन्दगी ने मेरे मर्ज़ का एक बढ़िया इलाज़ बताया,
    वक़्त को दवा कहा और ख्वाहिशों से परहेज़ बताया।
  • एक झूठ जो हर आदमी बोलता है:<br/>
`बात पैसे की नहीं है यार`!Upload to Facebook
    एक झूठ जो हर आदमी बोलता है:
    "बात पैसे की नहीं है यार"!
  • स्कूल का वो बस्ता मुझे फिर से थमा दे माँ;<br/>
ये ज़िन्दगी का सबक मुझे बड़ा मुश्किल लगता है।Upload to Facebook
    स्कूल का वो बस्ता मुझे फिर से थमा दे माँ;
    ये ज़िन्दगी का सबक मुझे बड़ा मुश्किल लगता है।
  • लौट आता हूँ वापस घर की तरफ हर रोज़ थका-हारा;<br/>
आज तक समझ नहीं आया कि जीने के लिए काम करता हूँ या काम करने के लिए जीता हूँ।Upload to Facebook
    लौट आता हूँ वापस घर की तरफ हर रोज़ थका-हारा;
    आज तक समझ नहीं आया कि जीने के लिए काम करता हूँ या काम करने के लिए जीता हूँ।
  • बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि सिर उठा कर जियो।<br/>
अब इन्हें कौन समझाये कि इस Smartphone की दुनियां में, कोई सिर उठा कर जिये भी तो कैसे।Upload to Facebook
    बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि सिर उठा कर जियो।
    अब इन्हें कौन समझाये कि इस Smartphone की दुनियां में, कोई सिर उठा कर जिये भी तो कैसे।
  • हमने दो ग्रुप बनाए,
    एक को योग करवाया,
    दूसरे को जिम करवाई,
    लेकिन बिस्तर पर लेटकर Whatsapp चलाने वाले ज्यादा खुश नज़र आये।
  • Father's Day के दिन 177 देशों में योग करवा के भारत ने सिद्ध कर दिया कि भारत विश्व को क्या दे सकता है।<br />
इस तरह स्वामी विवेकानंद की 123 साल पुरानी बात सच हो गई कि भारत  दुनिया का बाप है।Upload to Facebook
    Father's Day के दिन 177 देशों में योग करवा के भारत ने सिद्ध कर दिया कि भारत विश्व को क्या दे सकता है।
    इस तरह स्वामी विवेकानंद की 123 साल पुरानी बात सच हो गई कि भारत दुनिया का बाप है।
  • ENO काम शुरू सिर्फ 6 सेकंड में,<br />
EGO काम बिगाड़े सिर्फ 6 सेकंड में।Upload to Facebook
    ENO काम शुरू सिर्फ 6 सेकंड में,
    EGO काम बिगाड़े सिर्फ 6 सेकंड में।
  • इस कदर बँट गए हैं पंथो में सभी कि अगर भगवान भी आकर कहे,
    "मैं भगवान हूँ" तो भी लोग पूछ लेंगे, "किसके?"
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT