• साधू कहावन कठिन है, लम्बा पेड़ खजूर। <br/>
चढ़े तो चखे प्रेम रस, गिरे तो चकनाचूर।<br/>
~Sant  Kabir DasUpload to Facebook
    साधू कहावन कठिन है, लम्बा पेड़ खजूर।
    चढ़े तो चखे प्रेम रस, गिरे तो चकनाचूर।
    ~Sant Kabir Das
  • ज़रूरी नहीं कि हर समय लबों पर भगवान का नाम आये,<br/>
वो लम्हा भी भक्ति से कम नहीं जब इंसान इंसान के काम आये।Upload to Facebook
    ज़रूरी नहीं कि हर समय लबों पर भगवान का नाम आये,
    वो लम्हा भी भक्ति से कम नहीं जब इंसान इंसान के काम आये।
  • स्वर्ग का सपना छोड़ दो,<br/>
नरक का डर छोड़ दो,<br/>
कौन जाने क्या पाप, क्या पुण्य,<br/>
बस किसी का दिल न दुखे अपने स्वार्थ के लिए,<br/>
बाक़ी सब कुदरत पर छोड़ दो।Upload to Facebook
    स्वर्ग का सपना छोड़ दो,
    नरक का डर छोड़ दो,
    कौन जाने क्या पाप, क्या पुण्य,
    बस किसी का दिल न दुखे अपने स्वार्थ के लिए,
    बाक़ी सब कुदरत पर छोड़ दो।
  • हे प्रभु,<br/> 
मनुष्य होना मेरा भाग्य है -<br/>
पर आप से जुड़े रहना मेरा सौभाग्य है।Upload to Facebook
    हे प्रभु,
    मनुष्य होना मेरा भाग्य है -
    पर आप से जुड़े रहना मेरा सौभाग्य है।
  • भगवान के नाम पर काम शुरू करो।<br/>
भगवान की मदद के साथ काम करो।<br/>
भगवान को धन्यवाद के साथ काम संपूर्ण करो।<br/>
क्योंकि भगवान ही फैसला करता है, वही सब कुछ देता है और आपके जीवन में सब कुछ संभव बना देता है।Upload to Facebook
    भगवान के नाम पर काम शुरू करो।
    भगवान की मदद के साथ काम करो।
    भगवान को धन्यवाद के साथ काम संपूर्ण करो।
    क्योंकि भगवान ही फैसला करता है, वही सब कुछ देता है और आपके जीवन में सब कुछ संभव बना देता है।
  • ज़रूर कोई तो लिखता होगा कागज़ और पत्थर का भी नसीब;<br />
वरना यह मुमकिन नहीं कि कोई पत्थर ठोकर खाए और कोई पत्थर भगवान बन जाये,<br />
और कोई कागज़ रद्दी और कोई कागज़ गीता और कुरान बन जाये।Upload to Facebook
    ज़रूर कोई तो लिखता होगा कागज़ और पत्थर का भी नसीब;
    वरना यह मुमकिन नहीं कि कोई पत्थर ठोकर खाए और कोई पत्थर भगवान बन जाये,
    और कोई कागज़ रद्दी और कोई कागज़ गीता और कुरान बन जाये।
  • बहुत सुन्दर शब्द जो एक गुरुद्वारे के दरवाज़े पर लिखे थे :
    सेवा करनी है तो, घड़ी मत देखो !
    लंगर छ्कना है तो, स्वाद मत देखो !
    सत्संग सुनाना है तो, जगह मत देखो !
    बिनती करनी है तो, स्वार्थ मत देखो !
    समर्पण करना है तो, खर्चा मत देखो !
    रहमत देखनी है तो, जरूरत मत देखो !!
  • बिना माँगें इतना दिया दामन में मेरे समाया नही;
    जितना दिया प्रभु ने मुझको उतनी तो मेरी औकात नही;
    यह तो करम है उनका वरना मुझ में तो ऐसी बात नही।
  • `दु:ख` और `तकलीफ` भगवान की बनाई हुई वह प्रयोगशाला है,<br />
जहां आपकी काबलियत और आत्मविश्वास को परखा जाता है।Upload to Facebook
    "दु:ख" और "तकलीफ" भगवान की बनाई हुई वह प्रयोगशाला है,
    जहां आपकी काबलियत और आत्मविश्वास को परखा जाता है।
  • गोपाल सहारा तेरा है,<br/>
नंदलाल सहारा तेरा है,<br/>
तू मेरा है मैं तेरा हूँ,<br/>
मेरा और सहारा कोई नहीं,<br/>
तू माखन चुराने वाला है,<br/>
तू चित को चुराने वाला है,<br/>
तू गौयें चराने वाला है,<br/>
तू बंसी बजाने वाला है,<br/>
तू रास रचाने वाला है।<br/>
तेरे बिन मेरा और सहारा कोई नहीं।Upload to Facebook
    गोपाल सहारा तेरा है,
    नंदलाल सहारा तेरा है,
    तू मेरा है मैं तेरा हूँ,
    मेरा और सहारा कोई नहीं,
    तू माखन चुराने वाला है,
    तू चित को चुराने वाला है,
    तू गौयें चराने वाला है,
    तू बंसी बजाने वाला है,
    तू रास रचाने वाला है।
    तेरे बिन मेरा और सहारा कोई नहीं।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT