• दीपक में अगर नूर ना होता;
    तन्हा दिल यूँ मजबूर ना होता;
    मैं आपको "ईद मुबारक" कहने जरूर आता;
    अगर आपका घर इतना दूर ना होता।
    ईद मुबारक!
  • सूरज की किरणें तारों की बहार;
    चाँद की चाँदनी अपनों का प्यार;
    हर घड़ी हो ख़ुशहाल;
    उसी तरह मुबारक हो आपको ईद का त्योंहार।
    ईद मुबारक!
  • ज़िन्दगी का हर पल खुशियों से कम न हो;<br />
आप का हर दिन ईद के दिन से कम न हो;<br />
ऐसा ईद का दिन आपको हमेशा नसीब हो;<br />
जिसमें कोई दुःख और कोई गम न हो!<br />
ईद मुबारक!
    ज़िन्दगी का हर पल खुशियों से कम न हो;
    आप का हर दिन ईद के दिन से कम न हो;
    ऐसा ईद का दिन आपको हमेशा नसीब हो;
    जिसमें कोई दुःख और कोई गम न हो!
    ईद मुबारक!
  • दिए जलते और जगमगाते रहें;<br />
हम आपको इसी तरह याद आते रहें;<br />
जब तक जिंदगी है ये दुआ है हमारी;<br />
आप ईद के चाँद की तरह जगमगाते रहें।<br />
ईद मुबारक!
    दिए जलते और जगमगाते रहें;
    हम आपको इसी तरह याद आते रहें;
    जब तक जिंदगी है ये दुआ है हमारी;
    आप ईद के चाँद की तरह जगमगाते रहें।
    ईद मुबारक!
  • चुपके से चाँद की रोशनी छू जाये आपको;<br />
धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको;<br />
दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से;<br />
हम दुआ करते हैं वो मिल जाये आपको।<br />
ईद मुबारक!
    चुपके से चाँद की रोशनी छू जाये आपको;
    धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको;
    दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से;
    हम दुआ करते हैं वो मिल जाये आपको।
    ईद मुबारक!
  • सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल;<br />
दुनिया के सारे गम तुम्हें जायें भूल;<br />
चारो तरफ फैलाओ खुशियों के गीत;<br />
इसी उम्मीद के साथ यार तुम्हें मुबारक हो ईद।<br /> 
ईद मुबारक!
    सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल;
    दुनिया के सारे गम तुम्हें जायें भूल;
    चारो तरफ फैलाओ खुशियों के गीत;
    इसी उम्मीद के साथ यार तुम्हें मुबारक हो ईद।
    ईद मुबारक!
  • तू मेरी दुआओं में शामिल है इस तरह;<br />
फूलों में होती है खुशबु जिस तरह;<br />
अल्लाह तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे;<br />
ज़मीन पर होती है बारिश जिस तरह।<br />
ईद मुबारक!
    तू मेरी दुआओं में शामिल है इस तरह;
    फूलों में होती है खुशबु जिस तरह;
    अल्लाह तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे;
    ज़मीन पर होती है बारिश जिस तरह।
    ईद मुबारक!
  • हर बार की तरह इस बार भी 'आंसू' बहाऊंगा;<br />
तुम मुझसे दूर हो तो मैं कैसे ये 'ईद' मनाऊंगा;<br />
एक तरफ 'ईद' की ख़ुशी और एक तरफ 'तेरा' गम;<br />
छोड़ी है बात 'तुम' पे तुम ही 'जानों;'<br />
मैं अपने अंदर के जख्म 'किसी' को ना दिखाऊंगा।<br />
ईद मुबारक!
    हर बार की तरह इस बार भी 'आंसू' बहाऊंगा;
    तुम मुझसे दूर हो तो मैं कैसे ये 'ईद' मनाऊंगा;
    एक तरफ 'ईद' की ख़ुशी और एक तरफ 'तेरा' गम;
    छोड़ी है बात 'तुम' पे तुम ही 'जानों;'
    मैं अपने अंदर के जख्म 'किसी' को ना दिखाऊंगा।
    ईद मुबारक!
  • आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी;<br / >
करदे माफ़ हम लोगो की सारी नाफ़रमानी;<br / >
ईद का दिन आज आओ मिलकर करें यही वादा;<br / >
खुदा की ही राहों में हम चलेंगे सदा यही है हमारा वादा।<br / >
ईद मुबारक!
    आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी;
    करदे माफ़ हम लोगो की सारी नाफ़रमानी;
    ईद का दिन आज आओ मिलकर करें यही वादा;
    खुदा की ही राहों में हम चलेंगे सदा यही है हमारा वादा।
    ईद मुबारक!
  • मेरे सबसे अच्छे दोस्तों के लिए खास;<br/>
अपनी आँखें बंद करके मेरी हंसी के बारे में सोचो;<br/>
क्या आपने इसे किया?<br/>
मुबारक हो;<br/>
आप ने पाँच दिन पहले ही ईद का चाँद देख लिया!
    मेरे सबसे अच्छे दोस्तों के लिए खास;
    अपनी आँखें बंद करके मेरी हंसी के बारे में सोचो;
    क्या आपने इसे किया?
    मुबारक हो;
    आप ने पाँच दिन पहले ही ईद का चाँद देख लिया!