• दुनिया गोरे रंग के नशे में चूर है,<br/>
श्रीकृष्ण सांवले होकर भी मशहूर हैं!<br/>
आप और आपके पूरे परिवार को कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई हो।
    दुनिया गोरे रंग के नशे में चूर है,
    श्रीकृष्ण सांवले होकर भी मशहूर हैं!
    आप और आपके पूरे परिवार को कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई हो।
  • आनंद उमंग भयो जय हो नंदलाल की,<br/>
नंद घर आनंद भयो जय कन्हैया लाल की;<br/>
कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की,<br/>
हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की।<br/>
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव की सभी को शुभकामनाएं।
    आनंद उमंग भयो जय हो नंदलाल की,
    नंद घर आनंद भयो जय कन्हैया लाल की;
    कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की,
    हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की।
    श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव की सभी को शुभकामनाएं।
  • माखन चुराकर जिसने खाया, बंसी बजाकर जिसने नचाया;<br/>
खुशी मनाओ उसके जन्म दिन की, जिसने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया।<br/>
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पवन पर्व की सभी को शुभकामनायें!
    माखन चुराकर जिसने खाया, बंसी बजाकर जिसने नचाया;
    खुशी मनाओ उसके जन्म दिन की, जिसने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया।
    श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पवन पर्व की सभी को शुभकामनायें!
  • बैकुंठ में भी ना मिले जो वो सुख कान्हा तेरे वृंदावन धाम में हैं;<br/>
कितनी भी बड़ी विपदा हो चाहे, समाधान तो बस श्री राधे तेरे नाम में है!<br/>
श्री कृष्णाजन्माष्टमी की सभी को हार्दिक शुभकामनायें!
    बैकुंठ में भी ना मिले जो वो सुख कान्हा तेरे वृंदावन धाम में हैं;
    कितनी भी बड़ी विपदा हो चाहे, समाधान तो बस श्री राधे तेरे नाम में है!
    श्री कृष्णाजन्माष्टमी की सभी को हार्दिक शुभकामनायें!
  • कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है,<br/>
वो दुनिया के किसी कोने में नहीं;<br/>
जो मजा तेरी वृंदावन की रज में है,<br/>
मैंने पाया किसी बिछौने में नहीं!<br/>
कृष्णा जन्माष्टमी की शुभकामनायें!
    कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है,
    वो दुनिया के किसी कोने में नहीं;
    जो मजा तेरी वृंदावन की रज में है,
    मैंने पाया किसी बिछौने में नहीं!
    कृष्णा जन्माष्टमी की शुभकामनायें!
  • माखन चोर नन्द किशोर, बांधी जिसने प्रीत की डोर;<br/>
हरे कृष्ण हरे मुरारी, पूजती जिन्हें दुनिया सारी;<br/>
आओ उनके गुण गायें सब मिल के जन्माष्टमी मनायें!
    माखन चोर नन्द किशोर, बांधी जिसने प्रीत की डोर;
    हरे कृष्ण हरे मुरारी, पूजती जिन्हें दुनिया सारी;
    आओ उनके गुण गायें सब मिल के जन्माष्टमी मनायें!
  • मुरली मनोहर, बृज के धरोहर वो नंद लाल गोपाला हैं,<br/>
बंसी की धुन पे सब जग के दुःख हरने वाले नंद लाल गोपाला हैं,<br/>
आया है शुभ दिन देखो जन्माष्टमी का फैला चारों ओर उजाला है,<br/>
सब के मन में बसने वाले उस बंसी वाले का देखो अंदाज़ ही निराला है।<br/>
कृष्ण जन्माष्टमी की सभी को बधाई!
    मुरली मनोहर, बृज के धरोहर वो नंद लाल गोपाला हैं,
    बंसी की धुन पे सब जग के दुःख हरने वाले नंद लाल गोपाला हैं,
    आया है शुभ दिन देखो जन्माष्टमी का फैला चारों ओर उजाला है,
    सब के मन में बसने वाले उस बंसी वाले का देखो अंदाज़ ही निराला है।
    कृष्ण जन्माष्टमी की सभी को बधाई!
  • माखन चुराकर जिसने खाया;<br/>
बंसी बजाकर जिसने नचाया;<br/>
ख़ुशी मनाओ उसके जन्म की;<br/>
जिसने दुनिया को प्रेम सिखाया।<br/>
कृष्ण जन्माष्टमी की सभी को शुभ कामनायें!
    माखन चुराकर जिसने खाया;
    बंसी बजाकर जिसने नचाया;
    ख़ुशी मनाओ उसके जन्म की;
    जिसने दुनिया को प्रेम सिखाया।
    कृष्ण जन्माष्टमी की सभी को शुभ कामनायें!
  • वो मोर मुकुट, वो है नंद लाला;<br/>
वो मुरली मनोहर, बृज का ग्वाला;<br/>
वो माखन चोर, वो बंसी वाला;<br/>
खुशियां मनायें उसके जन्म की;<br/>
जो है इस जग का रखवाला।<br/>
आप सब को कृष्ण जन्माष्टमी की शुभ कामनायें!
    वो मोर मुकुट, वो है नंद लाला;
    वो मुरली मनोहर, बृज का ग्वाला;
    वो माखन चोर, वो बंसी वाला;
    खुशियां मनायें उसके जन्म की;
    जो है इस जग का रखवाला।
    आप सब को कृष्ण जन्माष्टमी की शुभ कामनायें!
  • माखन चुराकर जिसने खाया,<br/>
बंसी बजाकर जिसने नचाया, <br/>
खुशी मनाओ उसके जन्‍मदिन की, <br/>
जिसने दुनिया को प्रेम का पाठ पढ़ाया!<br/>
कृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी की शुभकामनाएं!
    माखन चुराकर जिसने खाया,
    बंसी बजाकर जिसने नचाया,
    खुशी मनाओ उसके जन्‍मदिन की,
    जिसने दुनिया को प्रेम का पाठ पढ़ाया!
    कृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी की शुभकामनाएं!