• जिस तरह मोदी जी हम सबको अपने फैंसले से चौंका देते हैं!<br/>
कहीं एक दिन ऐसा न हो हम सब सुबह उठे और मोदी जी कहें, मेरे भाईयों बहनों पाकिस्तान नहीं रहा!
    जिस तरह मोदी जी हम सबको अपने फैंसले से चौंका देते हैं!
    कहीं एक दिन ऐसा न हो हम सब सुबह उठे और मोदी जी कहें, मेरे भाईयों बहनों पाकिस्तान नहीं रहा!
  • भारत में क्रिकेट और राजनीती ऐसे अजूबे खेल हैं जिसमे दर्शकों को कोई आर्थिक लाभ नहीं होता लेकिन खिलाडी मालामाल हो जाते हैं!
    भारत में क्रिकेट और राजनीती ऐसे अजूबे खेल हैं जिसमे दर्शकों को कोई आर्थिक लाभ नहीं होता लेकिन खिलाडी मालामाल हो जाते हैं!
  • भाजपा को वोट दे तो हिन्दू हिन्दू है और वोट न दें तो हिन्दू गद्दार है...<br/>
मतलब भाजपा की पैदाइश के पहले इस देश में हिन्दू नहीं थे!
    भाजपा को वोट दे तो हिन्दू हिन्दू है और वोट न दें तो हिन्दू गद्दार है...
    मतलब भाजपा की पैदाइश के पहले इस देश में हिन्दू नहीं थे!
  • एक होती है बेज़्ज़ती फिर होती है घनघोर बेज्ज़ती फिर केजरीवाल सूटकेस लेकर रेडी था कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मगर बुलाया ही नहीं गया!
    एक होती है बेज़्ज़ती फिर होती है घनघोर बेज्ज़ती फिर केजरीवाल सूटकेस लेकर रेडी था कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मगर बुलाया ही नहीं गया!
  • कुछ तो खासियत है इस प्रजातंत्र में;<br/>
वोट देता हूँ फकीरों को, कम्बख्त शहंशाह बन जाते हैं!
    कुछ तो खासियत है इस प्रजातंत्र में;
    वोट देता हूँ फकीरों को, कम्बख्त शहंशाह बन जाते हैं!
  • जिस किसी को टिकट ना मिले निराश ना हों, पार्टी ना बदलें!<br/>
सबको टिकट हम देंगे!<br/>
भारतीय रेल, आपकी सेवा में!
    जिस किसी को टिकट ना मिले निराश ना हों, पार्टी ना बदलें!
    सबको टिकट हम देंगे!
    भारतीय रेल, आपकी सेवा में!
  • एक बार मायावती को प्रधानमंत्री बना कर देखो!<br/>
पटेल से तीन गुना ऊँची मूर्ति बनवा कर खुद उद्धघाटन नहीं किया तो कहना!
    एक बार मायावती को प्रधानमंत्री बना कर देखो!
    पटेल से तीन गुना ऊँची मूर्ति बनवा कर खुद उद्धघाटन नहीं किया तो कहना!
  • पेट्रोल की कीमत जिस तरह रोज कम रही है, मुझे लगता है चुनाव तक पेट्रोल पंप वाले उलटे पैसे वापस देने ना लग जाये!
    पेट्रोल की कीमत जिस तरह रोज कम रही है, मुझे लगता है चुनाव तक पेट्रोल पंप वाले उलटे पैसे वापस देने ना लग जाये!
  • समय समय की बात है दोस्तों,<br/>
कभी अकबर ने, अनारकली को दीवार में चुनवा दिया था और अब अनारकलियों ने मिलकर अकबर को ही चुनवा दिया!
    समय समय की बात है दोस्तों,
    कभी अकबर ने, अनारकली को दीवार में चुनवा दिया था और अब अनारकलियों ने मिलकर अकबर को ही चुनवा दिया!
  • अब इससे बुरा क्या होगा कि कीड़े मारने की दवाई में ही कीड़े पड़ गए!<br/>
#CBIvsCBI
    अब इससे बुरा क्या होगा कि कीड़े मारने की दवाई में ही कीड़े पड़ गए!
    #CBIvsCBI