• अगर राहुल गाँधी ये कहते कि एक तरफ से ''वाटर'' डालूंगा और दूसरी तरफ से ''क्वाटर'' निकालूंगा, तो अब तक वो प्रधानमंत्री बन भी चुके होते। Upload to Facebook
    अगर राहुल गाँधी ये कहते कि एक तरफ से ''वाटर'' डालूंगा और दूसरी तरफ से ''क्वाटर'' निकालूंगा, तो अब तक वो प्रधानमंत्री बन भी चुके होते।
  • सीता: प्रभु आप को हिचकी क्यों आ रही है?<br/>
राम: लगता है चुनाव आ गया है भारत में, BJP वाले याद कर रहे होंगे।Upload to Facebook
    सीता: प्रभु आप को हिचकी क्यों आ रही है?
    राम: लगता है चुनाव आ गया है भारत में, BJP वाले याद कर रहे होंगे।
  • EVM Machine: कुछ लोग मेरे साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं।<br/>
Ballot Box: शुक्र कर बहन, मुझे तो लोग उठाकर ही ले जाते थे।Upload to Facebook
    EVM Machine: कुछ लोग मेरे साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं।
    Ballot Box: शुक्र कर बहन, मुझे तो लोग उठाकर ही ले जाते थे।
  • पिछले साल नवंबर में पूरी दुनिया में भारत के नोट चर्चा में थे, <br/>
इस साल नवंबर में भारत की चिल्लर  चर्चा में है।Upload to Facebook
    पिछले साल नवंबर में पूरी दुनिया में भारत के नोट चर्चा में थे,
    इस साल नवंबर में भारत की चिल्लर चर्चा में है।
  • नोटों के पीछे मत भागना ऐ गालिब;<br/>
असली खूबसूरती तो चिल्लर में है।Upload to Facebook
    नोटों के पीछे मत भागना ऐ गालिब;
    असली खूबसूरती तो चिल्लर में है।
  • सूत्रों के मुताबिक:<br/>
कल रात कुछ लोगों ने पेट भर के आलू खाया ताकि कल सोना बोरी भर के निकाल सकें!Upload to Facebook
    सूत्रों के मुताबिक:
    कल रात कुछ लोगों ने पेट भर के आलू खाया ताकि कल सोना बोरी भर के निकाल सकें!
  • दिल्ली की हवा में साँस लेना 40 सिगरेट पीने जैसा बताया जा रहा है।<br/>
बस वहाँ के पानी में शराब जैसे गुण आ जाएँ तो दिल्ली को आधिकारिक तौर पे स्वर्ग घोषित कर दें।Upload to Facebook
    दिल्ली की हवा में साँस लेना 40 सिगरेट पीने जैसा बताया जा रहा है।
    बस वहाँ के पानी में शराब जैसे गुण आ जाएँ तो दिल्ली को आधिकारिक तौर पे स्वर्ग घोषित कर दें।
  • मुस्कुराइये आप लखनऊ में हैं।<br/>
खाँसिये आप दिल्ली में हैं।Upload to Facebook
    मुस्कुराइये आप लखनऊ में हैं।
    खाँसिये आप दिल्ली में हैं।
  • कुछ तो बात है नवम्बर में,<br/>
पिछले साल नोट बंद हुये थे... इस साल तो हद ही हो गई सांस बंद होने को है!<br/>
~ दिल्ली प्रदूषण Upload to Facebook
    कुछ तो बात है नवम्बर में,
    पिछले साल नोट बंद हुये थे... इस साल तो हद ही हो गई सांस बंद होने को है!
    ~ दिल्ली प्रदूषण
  • जिसे भी मौका मिलता है पीता ज़रूर है,<br/>
जाने क्या मिठास है जनता के खून में!Upload to Facebook
    जिसे भी मौका मिलता है पीता ज़रूर है,
    जाने क्या मिठास है जनता के खून में!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT