• मेहनत कितनी भी कर लो,
    मगर किस्मत कमीनी हो तो
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    ज़िन्दगी "साउथ अफ्रीका" बन जाती है।
  • अरुण लाल की कमेंट्री:<br />
'और ये चौका....बचा लिया'<br />
'और छक्का...हो सकता था पर कैच आउट हो गए'<br />
'बहुत ही अच्छा शॉट, लेकिन आउट'<br />
'बेहतरीन फील्डिंग हो सकती थी मगर कैच छोड़ा'Upload to Facebook
    अरुण लाल की कमेंट्री:
    'और ये चौका....बचा लिया'
    'और छक्का...हो सकता था पर कैच आउट हो गए'
    'बहुत ही अच्छा शॉट, लेकिन आउट'
    'बेहतरीन फील्डिंग हो सकती थी मगर कैच छोड़ा'
  • हम भारतीय क्वाटर फाइनल हार ही नहीं सकते। क्योंकि...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    हमें जहाँ "क्वाटर" मिल जाये फाइनल करके ही आते हैं।
  • भारत की आयरलैंड पर जीत के बाद सारे पाकिस्तानी एक ही गाना गा रहे हैं -
    "फूलों का तारों का सबका कहना है, एक हजारों में मेरे 'पापा' हैं"।
  • कम लोग जानते हैं कि 'कछुए और खरगोश' की रेस में मिस्बाह भी दौड़े थे, पर वो जब तक वहां पहुँचे तबतक 'युग' बदल चुका था।Upload to Facebook
    कम लोग जानते हैं कि 'कछुए और खरगोश' की रेस में मिस्बाह भी दौड़े थे, पर वो जब तक वहां पहुँचे तबतक 'युग' बदल चुका था।
  • पाकिस्तानी क्रिकेटरों के लिए:<br />
रन का न बनना, शीघ्र विकेट पतन, फील्डिंग में अपंगता, पिच में टेढ़ापन, गेंदबाजी दोष, ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाते हो तो अब शर्म छोड़िये और आज ही हमारे पास पधारिये।<br />
दो हफ्ते की खुराक में सारी समस्याओं से छुटकारा पाइए।<br /><br />

हकीम इमरान खान<br />
पता: नाले के पास, जिन्ना चौक, पेशावर<br />



<b>नोट:</b> इलाज पूरी तरह से गुप्त रखा जाता है।<br />
हमारी दूसरी कोई शाखा नहीं है।Upload to Facebook
    पाकिस्तानी क्रिकेटरों के लिए:
    रन का न बनना, शीघ्र विकेट पतन, फील्डिंग में अपंगता, पिच में टेढ़ापन, गेंदबाजी दोष, ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाते हो तो अब शर्म छोड़िये और आज ही हमारे पास पधारिये।
    दो हफ्ते की खुराक में सारी समस्याओं से छुटकारा पाइए।

    हकीम इमरान खान
    पता: नाले के पास, जिन्ना चौक, पेशावर
    नोट: इलाज पूरी तरह से गुप्त रखा जाता है।
    हमारी दूसरी कोई शाखा नहीं है।
  • पाकिस्तानी (हिंदुस्तानी से): भाई, तुम लोग `वर्ल्ड कप` में मैच कैसे जीतने लग जाते हो?<br />
हिंदुस्तानी: हमारी `पूनम पांडे` `वर्ल्ड कप`  के दौरान हमें बहुत प्रोत्साहित करती है।Upload to Facebook
    पाकिस्तानी (हिंदुस्तानी से): भाई, तुम लोग "वर्ल्ड कप" में मैच कैसे जीतने लग जाते हो?
    हिंदुस्तानी: हमारी "पूनम पांडे" "वर्ल्ड कप" के दौरान हमें बहुत प्रोत्साहित करती है।
  • अगला मैच UAE से है, इंसानियत के नाते उन्हें डराना नहीं चाहिए, जितनी उनकी जनसंख्या है उससे ज्यादा तो हमारे यहाँ 10वीं में बच्चे फेल हो जाते हैं।
  • IND-SA मैच के बाद:
    धोनी ने ड्रेसिंग रूम में जाकर रोहित को आवाज़ लगा कर कहा, "बेड के नीचे से निकल आओ। कोई कुछ नहीं कहेगा, हम मैच जीत गए हैं।
  • विश्वकप:

    श्रीलंका कभी पाक से नहीं जीता,
    पाक कभी भारत से नहीं जीता,
    भारत कभी अफ्रीका से नहीं जीता,
    और अफ्रीका कभी विश्वकप नहीं जीता।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT