• आज़्म-ए-वफ़ा मेरे वतन के साथ;
    मेरी खुशियाँ मेरे वतन के साथ;
    मेरा खून पसीना वतन के साथ;
    ये जज़्बा मेरे ख़्वाबों के साथ!
    शुभ गणतंत्र दिवस!
  • वतन हमारा ऐसे ना छीन पाये कोई;
    रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाये कोई;
    दिल हमारे एक हैं एक है हमारी जान;
    हिंदुस्तान हमारा है हम हैं इसकी शान।
    शुभ गणतंत्र दिवस।
  • मैं इसका हनुमान हूँ;
    ये देश मेरा राम है;
    छाती चीर कर देख लो;
    अन्दर बैठा हिंदुस्तान है।
    जय हिन्द। जय भारत।
    शुभ 26 जनवरी।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT