• आज का ज्ञान:<br/>
सुबह उठ कर रब का शुक्र अदा करो कि तुम ज़िंदा हो!<br/>
फिर ब्रश करो, ताकि दूसरे भी ज़िंदा रह सकें!
    आज का ज्ञान:
    सुबह उठ कर रब का शुक्र अदा करो कि तुम ज़िंदा हो!
    फिर ब्रश करो, ताकि दूसरे भी ज़िंदा रह सकें!
  • हमने तुमको दिल ये दे दिया ये भी न पूछा कौन हो तुम...<br/>
उपरोक्त पंक्ति में कवि अँधेरे में तीर मार रहा है!
    हमने तुमको दिल ये दे दिया ये भी न पूछा कौन हो तुम...
    उपरोक्त पंक्ति में कवि अँधेरे में तीर मार रहा है!
  • मेरी बीवी से मेरा झगड़ा हो गया!<br/>
माननीय कोर्ट ने मेरी सास, ससुर और साले की एक कमेटी बना दी!<br/>
क्या अब मुझे न्याय मिलेगा?
    मेरी बीवी से मेरा झगड़ा हो गया!
    माननीय कोर्ट ने मेरी सास, ससुर और साले की एक कमेटी बना दी!
    क्या अब मुझे न्याय मिलेगा?
  • भुखमरी में भारत का स्थान इतना ऊपर क्यों है इसकी वजह पता चल गयी है!<br/>
मेले बाबू ने थाना नहीं थाया तो मैं भी नहीं थाऊंगा!
    भुखमरी में भारत का स्थान इतना ऊपर क्यों है इसकी वजह पता चल गयी है!
    मेले बाबू ने थाना नहीं थाया तो मैं भी नहीं थाऊंगा!
  • इतनी ठंड को देख कर आज समझ आयी कि...<br/>
अंग्रेज लोग पेपर का इस्तेमाल क्यों करते हैं!
    इतनी ठंड को देख कर आज समझ आयी कि...
    अंग्रेज लोग पेपर का इस्तेमाल क्यों करते हैं!
  • यदि आप बिन बुलाये मेहमानों से बहुत ज्यादा परेशान है तो घर के बाहर LIC एजेन्ट का बोर्ड लगवा लें...<br/>
कसम से कह रहा हूँ 3 साल तक तो फूफा भी घर नही आएगा!
    यदि आप बिन बुलाये मेहमानों से बहुत ज्यादा परेशान है तो घर के बाहर LIC एजेन्ट का बोर्ड लगवा लें...
    कसम से कह रहा हूँ 3 साल तक तो फूफा भी घर नही आएगा!
  • आज बस में जाते-जाते एहसास हुआ कि बस ड्राइवर कितना दुखी है!<br/>
पूरे रास्ते इतने दर्द भरे गीत चला दिए भाई ने कि 3-4 बार तो मुझे ऐसा लगा कि मेरा ब्रेअकप हो गया है!
    आज बस में जाते-जाते एहसास हुआ कि बस ड्राइवर कितना दुखी है!
    पूरे रास्ते इतने दर्द भरे गीत चला दिए भाई ने कि 3-4 बार तो मुझे ऐसा लगा कि मेरा ब्रेअकप हो गया है!
  • इतिहास गवाह है, उस आदमी से तेज कोई नहीं चल सकता जिसे...<br/>
दुकानदार ने गलती से ज़्यादा पैसे दे दिए हों!
    इतिहास गवाह है, उस आदमी से तेज कोई नहीं चल सकता जिसे...
    दुकानदार ने गलती से ज़्यादा पैसे दे दिए हों!
  • आजकल लोग बेहद स्वार्थी हो गए हैं! पेन माँगो तो  ढक्कन अपने पास ही रख लेते हैं!<br/>
अब  मेरे पास 8-10 पेन हो गए हैं, बिना ढक्कन वाले!
    आजकल लोग बेहद स्वार्थी हो गए हैं! पेन माँगो तो ढक्कन अपने पास ही रख लेते हैं!
    अब मेरे पास 8-10 पेन हो गए हैं, बिना ढक्कन वाले!
  • कभी सोचा है कि जो कैल्शियम की गोली खुद इतनी आसानी से टूट जाती है वो हमारी हड्डियाँ कैसे मज़बूत करेगी!
    कभी सोचा है कि जो कैल्शियम की गोली खुद इतनी आसानी से टूट जाती है वो हमारी हड्डियाँ कैसे मज़बूत करेगी!