• शादी में ये 4 चीज़ें जरूर होती हैं।<br/>

1. मेहंदी <br/>

2. संगीत <br/>

3. बारात <br/>

4. एक नाराज रिश्तेदार।
    शादी में ये 4 चीज़ें जरूर होती हैं।
    1. मेहंदी
    2. संगीत
    3. बारात
    4. एक नाराज रिश्तेदार।
  • जो लोग अच्छे वक़्त में 'बड़ा भाव' खाते हैं,<br/>
वही लोग फिर बुरे वक़्त में 'वड़ा पाव' खाते हैं।
    जो लोग अच्छे वक़्त में 'बड़ा भाव' खाते हैं,
    वही लोग फिर बुरे वक़्त में 'वड़ा पाव' खाते हैं।
  • दिल्ली में इतना कोहरा है कि चोर ने महिला समझ के कुत्ते की चेन खींच ली।<br/>
कुत्ता स्वस्थ है, चोर अस्पताल में भर्ती है।
    दिल्ली में इतना कोहरा है कि चोर ने महिला समझ के कुत्ते की चेन खींच ली।
    कुत्ता स्वस्थ है, चोर अस्पताल में भर्ती है।
  • याददाश्त बढाने के लिए रात को बादाम भिगोकर रखे,<br/>
सुबह खाना ही भूल गया।
    याददाश्त बढाने के लिए रात को बादाम भिगोकर रखे,
    सुबह खाना ही भूल गया।
  • बैंक केशियर: नोट बदलवाने आये हो?<br/>
आदमी: हाँ ये लो सेमसंग नोट, iPhone 7 दे दो।<br/>
केशियर: कोई बाहर निकालो इस कमीने को।
    बैंक केशियर: नोट बदलवाने आये हो?
    आदमी: हाँ ये लो सेमसंग नोट, iPhone 7 दे दो।
    केशियर: कोई बाहर निकालो इस कमीने को।
  • दुनिया के दो ऐसे प्राणी बताओ जिन्हें ठण्ड नहीं लगती:<br/>
पहला पेंगुइन और दूसरा शादी में आई औरतें।
    दुनिया के दो ऐसे प्राणी बताओ जिन्हें ठण्ड नहीं लगती:
    पहला पेंगुइन और दूसरा शादी में आई औरतें।
  • जिन लड़कियों को शहर में 'ज़ीरो फिगर' बता के भाव दिए जाते हैं,<br/>
गाँव में लोग उसे कुपोषण का शिकार घोषित कर चिड़ाते हैं।
    जिन लड़कियों को शहर में 'ज़ीरो फिगर' बता के भाव दिए जाते हैं,
    गाँव में लोग उसे कुपोषण का शिकार घोषित कर चिड़ाते हैं।
  • सेल्फी लेते समय मुँह चोंच जैसा नहीं हो रहा है तो 'नोट' बोलकर Try कीजिये।
    सेल्फी लेते समय मुँह चोंच जैसा नहीं हो रहा है तो 'नोट' बोलकर Try कीजिये।
  • चैनल का नाम Life ok रखा है, और दिन भर दिखाते सावधान इंडिया हैं।<br/>
उसका नाम हटा के Like is not OK क्यों नहीं रख देते?
    चैनल का नाम Life ok रखा है, और दिन भर दिखाते सावधान इंडिया हैं।
    उसका नाम हटा के Like is not OK क्यों नहीं रख देते?
  • जिंदगी की मुसीबतें उन लोगों का रास्ता कभी नहीं रोक सकतीं, जो बचपन में पेंसिल छोटी हो जाने पर उसके पीछे पेन का ढक्कन लगाकर, उसे फिर से पकड़ने लायक बना लेते थे।
    जिंदगी की मुसीबतें उन लोगों का रास्ता कभी नहीं रोक सकतीं, जो बचपन में पेंसिल छोटी हो जाने पर उसके पीछे पेन का ढक्कन लगाकर, उसे फिर से पकड़ने लायक बना लेते थे।