• सतगुरु नानक देयो गुरां गुर होया<br/>
अंगद अल्ख अमायो सहज समोया<br/>
राम नाम अर्खियो अमृत चोया<br/>
गुरु अर्जुन कर सयो धोये धोया<br/>
गुरु हरगोबिंद अमायो विलोये विलोया<br/>
वार 3, पौडी 12<br/>
भाई गुरदास जी<br/>
 
गुरु हरगोबिंद साहिब जी के गुरपुरब की बधाई।
    सतगुरु नानक देयो गुरां गुर होया
    अंगद अल्ख अमायो सहज समोया
    राम नाम अर्खियो अमृत चोया
    गुरु अर्जुन कर सयो धोये धोया
    गुरु हरगोबिंद अमायो विलोये विलोया
    वार 3, पौडी 12
    भाई गुरदास जी
    गुरु हरगोबिंद साहिब जी के गुरपुरब की बधाई।
  • मीरी-पीरी के मालिक;<br/>
बंदी छोड़ महाराज गुरु हरगोबिंद साहिब जी के प्रकाश पुरब की बधाई।
    मीरी-पीरी के मालिक;
    बंदी छोड़ महाराज गुरु हरगोबिंद साहिब जी के प्रकाश पुरब की बधाई।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT