• दिल तो करता है जिंदगी को किसी क़ातिल के हवाले कर दूँ;
    जुदाई में यूँ रोज़ रोज़ मरना मुझे अच्छा नहीं लगता!
  • जब से पता चला है, कि मरने का नाम है 'जिंदगी';
    तब से, कफ़न बांधे कातिल को ढूढ़ते हैं!