• मौत मिलती है न ज़िंदगी मिलती है;<br/>
ज़िंदगी की राहों में बेबसी मिलती है;<br/>
रुला देते हैं क्यों मेरे अपने;<br/>
जब भी मुझे कोई ख़ुशी मिलती है।
    मौत मिलती है न ज़िंदगी मिलती है;
    ज़िंदगी की राहों में बेबसी मिलती है;
    रुला देते हैं क्यों मेरे अपने;
    जब भी मुझे कोई ख़ुशी मिलती है।
  • तेरे ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ;<br/>
ज़िंदगी तेरी चाहत में सवार लूँ;<br/>
मुलाक़ात हो तुझसे कुछ इस तरह;<br/>
तमाम उम्र बस एक मुलाक़ात में गुज़र लूँ।
    तेरे ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ;
    ज़िंदगी तेरी चाहत में सवार लूँ;
    मुलाक़ात हो तुझसे कुछ इस तरह;
    तमाम उम्र बस एक मुलाक़ात में गुज़र लूँ।
  • ज़िंदगी में कभी उदास मत होना;<br/>
कभी किसी बात पर निराश मत होना;<br/>
ज़िंदगी संघर्ष है, चलती ही रहेगी;<br/>
कभी अपने जीने का अंदाज़ मत बदलना।
    ज़िंदगी में कभी उदास मत होना;
    कभी किसी बात पर निराश मत होना;
    ज़िंदगी संघर्ष है, चलती ही रहेगी;
    कभी अपने जीने का अंदाज़ मत बदलना।
  • फूल बनके खुशबु फैलना ही है ज़िंदगी;
    हर दर्द को हँसी में छुपा लेना ही है ज़िन्दगी;
    ज़िंदगी में जीत मिली तो क्या हुआ;
    हार कर भी ख़ुशी जताना ही है ज़िंदगी।
  • ज़िंदगी बहुत कुछ सिखाती है, कभी हँसाती है कभी रुलाती है;
    पर जो हर हाल में खुश रहते हैं, ज़िंदगी उनके आगे सिर झुकाती है।
  • सपना ऐसा देखो कि आसमान तक जा सको;<br/>
दुआ ऐसी करो कि खुदा को पा सको;<br/>
यूँ तो ज़िंदगी जीने में बहुत कम पल हैं;<br/>
पर जियो तो ऐसे कि हर पल में ज़िंदगी पा सको।
    सपना ऐसा देखो कि आसमान तक जा सको;
    दुआ ऐसी करो कि खुदा को पा सको;
    यूँ तो ज़िंदगी जीने में बहुत कम पल हैं;
    पर जियो तो ऐसे कि हर पल में ज़िंदगी पा सको।
  • ज़िंदगी ज़ख्मों से भरी है, वक़्त को मरहम बनाना सीख लो;<br/>
हारना तो है ही मौत के हाथों एक दिन, फिलहाल ज़िंदगी को जीना सीख लो।
    ज़िंदगी ज़ख्मों से भरी है, वक़्त को मरहम बनाना सीख लो;
    हारना तो है ही मौत के हाथों एक दिन, फिलहाल ज़िंदगी को जीना सीख लो।
  • ज़िंदगी जाने कितने मोड़ लेती है;<br/>
हर मोड़ पर नए सवाल देती है;<br/>
तलाशते रहते हैं हम जवाब ज़िंदगी भर;<br/>
और जब जवाब मिल जाये तो ज़िंदगी सवाल बदल देती है।
    ज़िंदगी जाने कितने मोड़ लेती है;
    हर मोड़ पर नए सवाल देती है;
    तलाशते रहते हैं हम जवाब ज़िंदगी भर;
    और जब जवाब मिल जाये तो ज़िंदगी सवाल बदल देती है।
  • जिदंगी तेरे ख्वाब भी कमाल के है।<br/>
तू गरीबों को उन महलों के सपने दिखाती है;<br/>
जिसमें अमीरों को नींद नहीं आती।
    जिदंगी तेरे ख्वाब भी कमाल के है।
    तू गरीबों को उन महलों के सपने दिखाती है;
    जिसमें अमीरों को नींद नहीं आती।
  • जाने कौन सा तराना है ये ज़िन्दगी;<br/>
बिना बात का फ़साना है ये ज़िन्दगी;<br/>
एक अरस गुज़र गया पत्तों के साथ गिरे हुए;<br/>
पर आज भी उम्मीद का खज़ाना है ज़िन्दगी!
    जाने कौन सा तराना है ये ज़िन्दगी;
    बिना बात का फ़साना है ये ज़िन्दगी;
    एक अरस गुज़र गया पत्तों के साथ गिरे हुए;
    पर आज भी उम्मीद का खज़ाना है ज़िन्दगी!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT