जीतो प्रीतो Hindi SMS

प्रीतो: क्या बात है, आज-कल तुम बड़ी परेशान रहती हो?<br/>

जीतो: पता नहीं, पर जब भी मेरे पति घर को स्वर्ग बनाने की बात करते हैं तो मुझे लगता है कि वो मुझे तलाक देना चाहते हैं।
प्रीतो: क्या बात है, आज-कल तुम बड़ी परेशान रहती हो?
जीतो: पता नहीं, पर जब भी मेरे पति घर को स्वर्ग बनाने की बात करते हैं तो मुझे लगता है कि वो मुझे तलाक देना चाहते हैं।
एक दिन संता को ऑफिस से लौटने में काफी देर हो गई। घर आकर उसने देखा कि जीतो का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है और वो संता को देखते ही उस पर बरस पड़ी, "आखिर इतनी देर कहाँ लगा दी? तुम्हें मेरा कुछ ख़याल है कि नहीं?"
संता: इसमें ख़याल वाली कौन सी बात हो गई? क्या आज से पहले मुझे कभी देर नहीं हुई?
जीतो: वह बात और है। आज पड़ोसी आपस में बातें कर रहे थे कि एक पागल सा आदमी ट्रेन के नीचे आकर मर गया। तुम्हें नहीं मालूम, तब से मुझ पर क्या गुजर रही है?
जीतो: आज मेर पति का जन्मदिन है तो उनको क्या तोहफा दूँ?<br/>
प्रीतो: तोहफा अपनी मर्ज़ी का देना है या उनकी मर्ज़ी का?<br/>
जीतो: जन्मदिन उनका है तो तोहफा भी उन्हीं की पसंद का होना चाहिए।<br/>
प्रीतो: फिर तो तू उन्हें तलाक़ दे दे।
जीतो: आज मेर पति का जन्मदिन है तो उनको क्या तोहफा दूँ?
प्रीतो: तोहफा अपनी मर्ज़ी का देना है या उनकी मर्ज़ी का?
जीतो: जन्मदिन उनका है तो तोहफा भी उन्हीं की पसंद का होना चाहिए।
प्रीतो: फिर तो तू उन्हें तलाक़ दे दे।
जीतो ने डॉक्टर को फ़ोन किया!<br/>
जीतो: डॉक्टर साहब मेरे पति को करंट लग गया है, मैं क्या करूँ?<br/>
डॉक्टर: अरे वाह! आप भगवान का शुक्रिया अदा करो!<br/>
जीतो: वोह क्यों?<br/>
डॉक्टर: अरे क्योंकि आपके यहाँ बिजली है, इसलिए।
जीतो ने डॉक्टर को फ़ोन किया!
जीतो: डॉक्टर साहब मेरे पति को करंट लग गया है, मैं क्या करूँ?
डॉक्टर: अरे वाह! आप भगवान का शुक्रिया अदा करो!
जीतो: वोह क्यों?
डॉक्टर: अरे क्योंकि आपके यहाँ बिजली है, इसलिए।
जीतो, संता की ओर कुछ देर घूरकर देखने के बाद बोली: तुम चाहे कुछ भी हो, लेकिन झूठे बिल्कुल नहीं हो।<br/>
संता: तुम्हें कैसे पता चला?<br/>
जीतो: तुम ही तो शादी से पहले कहा करते थे कि तुम मेरे पति बनने के लायक नहीं हो।
जीतो, संता की ओर कुछ देर घूरकर देखने के बाद बोली: तुम चाहे कुछ भी हो, लेकिन झूठे बिल्कुल नहीं हो।
संता: तुम्हें कैसे पता चला?
जीतो: तुम ही तो शादी से पहले कहा करते थे कि तुम मेरे पति बनने के लायक नहीं हो।
जीतो: भईया, आज समोसे अच्छे नहीं बने हैं। कल वाले अच्छे थे।<br/>
समोसे वाला: क्या बात कर रही हैं बहन जी, यह कल वाले ही तो हैं।
जीतो: भईया, आज समोसे अच्छे नहीं बने हैं। कल वाले अच्छे थे।
समोसे वाला: क्या बात कर रही हैं बहन जी, यह कल वाले ही तो हैं।
जीतो ने पप्पू को डांटते हुए कहा: घर में तरीके से रहा जाता है, तुम्हें मेरी हर बात माननी चाहिए।<br/>
पप्पू ने सिर हिलाते हुए कहा: मैं समझ गया मम्मी, आगे से मैं भी वैसे ही रहूंगा, जैसे पापा रहते हैं।
जीतो ने पप्पू को डांटते हुए कहा: घर में तरीके से रहा जाता है, तुम्हें मेरी हर बात माननी चाहिए।
पप्पू ने सिर हिलाते हुए कहा: मैं समझ गया मम्मी, आगे से मैं भी वैसे ही रहूंगा, जैसे पापा रहते हैं।
जीतो: तुम इतनी परेशान क्यों लग रही हो??<br/>
प्रीतो: कल रात मैंने एक सपना देखा कि मेरे पति किसी दूसरी औरत के साथ रंगरलियां मना रहे थे।<br/>
जीतो: सपने की वजह से इतना परेशान क्यों होना?<br/>
प्रीतो: सोच रही हूँ कि जब मेरे सपने में वो ऐसी हरकतें कर सकते हैं तो अपने सपनों में क्या करते होंगे!
जीतो: तुम इतनी परेशान क्यों लग रही हो??
प्रीतो: कल रात मैंने एक सपना देखा कि मेरे पति किसी दूसरी औरत के साथ रंगरलियां मना रहे थे।
जीतो: सपने की वजह से इतना परेशान क्यों होना?
प्रीतो: सोच रही हूँ कि जब मेरे सपने में वो ऐसी हरकतें कर सकते हैं तो अपने सपनों में क्या करते होंगे!
पप्पू: मम्मी मुझे नींद नहीं आ रही, मुझे कोई कहानी सुनाओ।<br/>
जीतो: थोड़ी देर ठहर जा, तुम्हारे डैडी आते ही होंगे। टाइम पर घर न आने की कहानी वो जो मुझे सुनाएंगे, तू भी सुन लेना।
पप्पू: मम्मी मुझे नींद नहीं आ रही, मुझे कोई कहानी सुनाओ।
जीतो: थोड़ी देर ठहर जा, तुम्हारे डैडी आते ही होंगे। टाइम पर घर न आने की कहानी वो जो मुझे सुनाएंगे, तू भी सुन लेना।
जीतो संता से, 'जब भी तुम काम के लिए बाहर जाते हो तो मुझे घबराहट होती रहती है'। 
संता: घबराओ नहीं डार्लिंग, मैं इतनी जल्दी वापिस आऊंगा कि तुम्हें इसका पता भी नहीं चलेगा। 
जीतो: इसी वज़ह से तो मैं घबराती हूँ।
जीतो संता से, "जब भी तुम काम के लिए बाहर जाते हो तो मुझे घबराहट होती रहती है"।
संता: घबराओ नहीं डार्लिंग, मैं इतनी जल्दी वापिस आऊंगा कि तुम्हें इसका पता भी नहीं चलेगा।
जीतो: इसी वज़ह से तो मैं घबराती हूँ।

Quotes

कर्तव्य कभी आग और पानी की परवाह नहीं करता। कर्तव्य-पालन में ही चित्त की शांति है।

Trivia

The Iglesia Maradoniana (English: Church of Maradona; literally Maradonian Church) is a religion, created by fans of the retired Argentine football player Diego Maradona, who they believe to be the best player of all time.

Graffiti

If it weren't for the rains, people would be all dry.