• जिसका वजूद नहीं, वह हस्ती किस काम की;<br />
जो मजा न दे, वह मस्ती किस काम की;<br />
जहा दिल न लगे, वो बस्ती किस काम की;<br />
हम आपको याद न करें, तो फिर हमारी दोस्ती किस काम की!
    जिसका वजूद नहीं, वह हस्ती किस काम की;
    जो मजा न दे, वह मस्ती किस काम की;
    जहा दिल न लगे, वो बस्ती किस काम की;
    हम आपको याद न करें, तो फिर हमारी दोस्ती किस काम की!
  • खुदा ने कहा दोस्ती न कर, दोस्ती में तु खो जायेगा;<br />
मैंने कहा, `ए खुदा जमीन पर आकर मेरे दोस्त से तो मिल, तु भी उस पर फ़ना हो जाएगा`!
    खुदा ने कहा दोस्ती न कर, दोस्ती में तु खो जायेगा;
    मैंने कहा, "ए खुदा जमीन पर आकर मेरे दोस्त से तो मिल, तु भी उस पर फ़ना हो जाएगा"!
  • दोस्ती गुनाह है, तो होने मत देना;<br />
दोस्ती खुदा है, तो खोने मत देना;<br />
जब करना दोस्ती किसी से कभी;<br />
तो उस दोस्त को, रोने मत देना!
    दोस्ती गुनाह है, तो होने मत देना;
    दोस्ती खुदा है, तो खोने मत देना;
    जब करना दोस्ती किसी से कभी;
    तो उस दोस्त को, रोने मत देना!
  • दोस्त प्यार से भी बड़ा होता है;
    हर सुख और दुःख में साथ होता है;
    तभी तो कृष्ण राधा के लिए नहीं, सुदामा के लिए रोता है;
    क्योंकि हर एक फ्रेंड को एक फ्रेंड का साथ ज़रूरी होता है!
  • दोस्तों के लिए समर्पित:
    होगे तुम किसी के जानु, बेबी, स्वीटहार्ट, शोना, पोचु और सबकुछ;
    .
    ..
    ...
    हमारे लिए तो तुम कुत्ते थे, कमीने हो और हराम खोर रहोगे!
  • आपकी दोस्ती हमारे सुरों का साज है;
    आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ है;
    चाहे कुछ भी हो जाये जिंदगी में;
    दोस्ती कल भी वैसी ही रहेगी, जैसी आज है!
  • जिंदगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी!<br />
दोस्तों पर हाजिर है, जान हमारी!<br />
आँखों में हमारी आंसू हैं तो क्या;<br />
जान से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी!
    जिंदगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी!
    दोस्तों पर हाजिर है, जान हमारी!
    आँखों में हमारी आंसू हैं तो क्या;
    जान से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी!
  • कौन कहता है दोस्त, तुमसे हमारी जुदाई होगी;<br />
ये खबर किसी और ने उड़ाई होगी;<br />
शान से रहेंगे हम आपके दिल में;<br />
दोस्ती के इस खेल में हमने;<br />
कुछ तो जगह बनाई होगी!
    कौन कहता है दोस्त, तुमसे हमारी जुदाई होगी;
    ये खबर किसी और ने उड़ाई होगी;
    शान से रहेंगे हम आपके दिल में;
    दोस्ती के इस खेल में हमने;
    कुछ तो जगह बनाई होगी!
  • लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो की दोस्ती दिल पर सवार हो जाए!<br />
हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो की दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए!
    लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो की दोस्ती दिल पर सवार हो जाए!
    हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो की दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए!
  • मत ढूढ़ ऍय दोस्त, कमजोरियां मुझमें;<br />
तु भी तो शामिल है, मेरी कमजोरियों में!
    मत ढूढ़ ऍय दोस्त, कमजोरियां मुझमें;
    तु भी तो शामिल है, मेरी कमजोरियों में!