• रेखा ने कहा, `ये आज की बात नहीं है... जया जी तो शुरू से नेगेटिव ही हैं!`
    रेखा ने कहा, "ये आज की बात नहीं है... जया जी तो शुरू से नेगेटिव ही हैं!"
  • अरेंज मैरिज के भी अपने फायदे हैं,<br/>
कभी-कभी ऐसी लड़की से भी शादी हो जाती है जिसे लड़का खुद सात जन्म तक नहीं पटा सकता।
    अरेंज मैरिज के भी अपने फायदे हैं,
    कभी-कभी ऐसी लड़की से भी शादी हो जाती है जिसे लड़का खुद सात जन्म तक नहीं पटा सकता।
  • खूबसूरत लड़की आपसे बात करते करते भैया बोल दे तो आपका हाल वही होता है जो स्वादिष्ट भोजन करते वक़्त कंकर या बाल निकलने से होता है!
    खूबसूरत लड़की आपसे बात करते करते भैया बोल दे तो आपका हाल वही होता है जो स्वादिष्ट भोजन करते वक़्त कंकर या बाल निकलने से होता है!
  • मेरी क्या बराबरी करोगे तुम लोग;<br/>
4 शादियों में टॉप 50 में आया हूँ!
    मेरी क्या बराबरी करोगे तुम लोग;
    4 शादियों में टॉप 50 में आया हूँ!
  • आज का ज्ञान:<br/>
सच्चा दोस्त वही होता है जो तुम्हारे सीरियस होने पर तुम्हारा मज़ाक उड़ाए!h
    आज का ज्ञान:
    सच्चा दोस्त वही होता है जो तुम्हारे सीरियस होने पर तुम्हारा मज़ाक उड़ाए!h
  • बहस करने की इज़ाज़त मेरे संस्कार नहीं देते!
    तुम एक बार मिलो मार-पीट कर बात खत्म करते हैं!
  • मजबूरी में बोला गया झूठ भगवान भी माफ कर देता है! इसलिए...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
इसलिए लड़कियों की तारीफ करने में कोई कमी नहीं आनी चाहिए!
    मजबूरी में बोला गया झूठ भगवान भी माफ कर देता है! इसलिए...
    .
    .
    .
    .
    .
    इसलिए लड़कियों की तारीफ करने में कोई कमी नहीं आनी चाहिए!
  • आज का ज्ञान:<br/>
कोई चीज बुरी नहीं होती बस समय समय की बात है।<br/>
अगर बगल की स्कूटी पर खूबसूरत लड़की हो तो ट्रैफिक जाम भी अच्छा लगता है।
    आज का ज्ञान:
    कोई चीज बुरी नहीं होती बस समय समय की बात है।
    अगर बगल की स्कूटी पर खूबसूरत लड़की हो तो ट्रैफिक जाम भी अच्छा लगता है।
  • शब्द ही काफ़ी नहीं होते, हर किसी को समझाने के लिए;<br/>
कभी-कभी कान के नीचे भी देने पड़ते हैं!
    शब्द ही काफ़ी नहीं होते, हर किसी को समझाने के लिए;
    कभी-कभी कान के नीचे भी देने पड़ते हैं!
  • मम्मी बोली मन्दिर जाया करो `शांती` मिलेगी!<br/>
आज मन्दिर गया `शांती` तो नहीं मिली पर `पूजा` मिल गयी!
    मम्मी बोली मन्दिर जाया करो "शांती" मिलेगी!
    आज मन्दिर गया "शांती" तो नहीं मिली पर "पूजा" मिल गयी!