• तेरी यादों को भुलाने के लिये रखे थे सीने पर जो पत्थर,<br/>
सरक कर किडनी में वो आज पत्थरी बन गए।
    तेरी यादों को भुलाने के लिये रखे थे सीने पर जो पत्थर,
    सरक कर किडनी में वो आज पत्थरी बन गए।
  • ऑनलाइन कारोबार की ज़बरदस्त सफलता से बड़े-बड़े व्यापारी घबरा चुके हैं।<br/>
लेकिन सबसे ज़्यादा निश्चिन्त `सुलभ शौचालय` वाले हैं।
    ऑनलाइन कारोबार की ज़बरदस्त सफलता से बड़े-बड़े व्यापारी घबरा चुके हैं।
    लेकिन सबसे ज़्यादा निश्चिन्त "सुलभ शौचालय" वाले हैं।
  • कुछ दोस्त पाँच के नोट की तरह होते हैं।<br/>
जब मिलेंगे फटे हाल ही मिलेंगे।
    कुछ दोस्त पाँच के नोट की तरह होते हैं।
    जब मिलेंगे फटे हाल ही मिलेंगे।
  • पडोसी तिवारी जी के यहाँ मेहमान आये। उन्हें चारपाई की ज़रुरत पड़ी तो एक चारपाई माँगने गुप्ता जी के घर गये।<br/>
गुप्ता जी ने असर्मथता जताते हुए कहा, `यार माफ़ करना, घर में सिर्फ दो चारपाई हैं, एक पर मैं और मेरा बेटा सोते हैं तथा दूसरी पर मेरी पत्नी और बहू।`<br/>
तिवारी जी: यार चारपाई न दो, कोई बात नहीं, पर सोया तो ठीक से करो।
    पडोसी तिवारी जी के यहाँ मेहमान आये। उन्हें चारपाई की ज़रुरत पड़ी तो एक चारपाई माँगने गुप्ता जी के घर गये।
    गुप्ता जी ने असर्मथता जताते हुए कहा, "यार माफ़ करना, घर में सिर्फ दो चारपाई हैं, एक पर मैं और मेरा बेटा सोते हैं तथा दूसरी पर मेरी पत्नी और बहू।"
    तिवारी जी: यार चारपाई न दो, कोई बात नहीं, पर सोया तो ठीक से करो।
  • जिस स्पीड से लड़कियाँ BF के दोस्तों की भाभी बन जाती हैं।<br/>
उसी स्पीड से लड़के GF की सहेलियों के जीजू क्यों नहीं बनते?
    जिस स्पीड से लड़कियाँ BF के दोस्तों की भाभी बन जाती हैं।
    उसी स्पीड से लड़के GF की सहेलियों के जीजू क्यों नहीं बनते?
  • विज्ञापन आता है कि...<br/>
फलाना यूनिवर्सिटी 400 एकड़ में फैली है।<br/>
मुझे आज तक समझ में नहीं आया, ये बच्चों को पढ़ने बुलाते हैं या चरने?
    विज्ञापन आता है कि...
    फलाना यूनिवर्सिटी 400 एकड़ में फैली है।
    मुझे आज तक समझ में नहीं आया, ये बच्चों को पढ़ने बुलाते हैं या चरने?
  • इतना टूट के ना चाहो, उसे मोहब्बत की शुरूआत में....<br/>
क्या पता उसकी बहन ज्यादा खूबसूरत हो।
    इतना टूट के ना चाहो, उसे मोहब्बत की शुरूआत में....
    क्या पता उसकी बहन ज्यादा खूबसूरत हो।
  • आज का ज्ञान:
यदि कोई मनुष्य आपके प्रति ईष्या रखता है, घृणा करता है तो,<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
कूटो साले को, इंतजार किस बात का है।
    आज का ज्ञान: यदि कोई मनुष्य आपके प्रति ईष्या रखता है, घृणा करता है तो,
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    कूटो साले को, इंतजार किस बात का है।
  • गुस्से का आना मर्द होने की निशानी है मगर,<br/>
गुस्से को पी जाना पति होने की निशानी है।
    गुस्से का आना मर्द होने की निशानी है मगर,
    गुस्से को पी जाना पति होने की निशानी है।
  • अर्ज़ किया है:<br/>
मुझ से ब्रेकअप कर के तू बन गई उल्ल,<br/>
मुझ से ब्रेकअप कर के तू बन गई उल्ल,<br/>
मैंने तो नयी पटा ली, तुझे क्या मिला?<br/>
बाबा जी का ठुल्लू!
    अर्ज़ किया है:
    मुझ से ब्रेकअप कर के तू बन गई उल्ल,
    मुझ से ब्रेकअप कर के तू बन गई उल्ल,
    मैंने तो नयी पटा ली, तुझे क्या मिला?
    बाबा जी का ठुल्लू!