• कुँवारे की भी कोई ज़िंदगी है... <br/>
जिस तरफ करवट बदलो तकिया ही मिलता है।
    कुँवारे की भी कोई ज़िंदगी है...
    जिस तरफ करवट बदलो तकिया ही मिलता है।
  • बचपन की मासूमियत कब जवानी के जोश में बदल गयी ये तब जाना,<br/>
जब चोट लगने पर मुँह से 'ओह माँ' की बजाय 'इसकी माँ का साकी नाका' निकलने लगा।
    बचपन की मासूमियत कब जवानी के जोश में बदल गयी ये तब जाना,
    जब चोट लगने पर मुँह से 'ओह माँ' की बजाय 'इसकी माँ का साकी नाका' निकलने लगा।
  • दो चार काले कलूटे दोस्त भी साथ रखने चाहिए।<br/>
क्या पता कब आप को हैंडसम महसूस करवा दें।
    दो चार काले कलूटे दोस्त भी साथ रखने चाहिए।
    क्या पता कब आप को हैंडसम महसूस करवा दें।
  • औरतों के कान में सुनने के लिए एक सुराख पहले से पैदाइशी होता है।<br/>
लेकिन वो 4-5 और करा लेती हैं। मगर सुनती किसी की भी नहीं।
    औरतों के कान में सुनने के लिए एक सुराख पहले से पैदाइशी होता है।
    लेकिन वो 4-5 और करा लेती हैं। मगर सुनती किसी की भी नहीं।
  • एक बात हमेशा याद रखना जोड़ी ज़रूर आसमान में बनती है।<br/>
पर सेटिंग ज़मीन पर ही करनी पड़ती है।
    एक बात हमेशा याद रखना जोड़ी ज़रूर आसमान में बनती है।
    पर सेटिंग ज़मीन पर ही करनी पड़ती है।
  • इतने देशों में भारत ही एक मात्र देश है जहाँ के लोगो का भविष्य उनके कच्छे पर निर्भर करता है।<br/>
Llux_Cozy_Underwear<br/>
अपना लक पहन के चलो।
    इतने देशों में भारत ही एक मात्र देश है जहाँ के लोगो का भविष्य उनके कच्छे पर निर्भर करता है।
    Llux_Cozy_Underwear
    अपना लक पहन के चलो।
  • झूठा था वो दोस्त जो कहता था जान भी मांगो तो दे दूंगा।<br/>
आज वो अपनी घरवाली को जान कहता है, और मांगो तो कमीना गालियाँ देता है।
    झूठा था वो दोस्त जो कहता था जान भी मांगो तो दे दूंगा।
    आज वो अपनी घरवाली को जान कहता है, और मांगो तो कमीना गालियाँ देता है।
  • ज़िन्दगी के उस मुकाम पर आ पहुँचा हूँ कि समझ में नहीं आ रहा...<br/>
लड़की पटाऊँ या आंटी।
    ज़िन्दगी के उस मुकाम पर आ पहुँचा हूँ कि समझ में नहीं आ रहा...
    लड़की पटाऊँ या आंटी।
  • इश्क़ में जान दे दो...<br/>
पर पैसे ना दो।
    इश्क़ में जान दे दो...
    पर पैसे ना दो।
  • मेरे एक Facebook Friend ने Post किया कि...<br/>
काश कि तुम मौत होती, एक दिन ही सही मेरी तो होती।<br/>
तो मैंने भी Comment कर दिया कि भाई, अगर वो मौत होती तो एक दिन सबकी होती।<br/>
भाई ने तुरंत Unfriend कर दिया... बताइये अब तो Logic भी देना गलत हो गया।
    मेरे एक Facebook Friend ने Post किया कि...
    काश कि तुम मौत होती, एक दिन ही सही मेरी तो होती।
    तो मैंने भी Comment कर दिया कि भाई, अगर वो मौत होती तो एक दिन सबकी होती।
    भाई ने तुरंत Unfriend कर दिया... बताइये अब तो Logic भी देना गलत हो गया।