• आप जैसे लोग कुछ खास लगते हैं;
    दिल में हर वक़्त एक आस रखते हैं;
    जाने कब हो जाये मुलाक़ात आपसे;
    इसलिए 1 डिस्प्रिन (Disprin) हम हमेशा अपने पास रखते हैं।
  • शमा रो रो के परवाने से कह रही है;
    शमा रो रो के परवाने से कह रही है;
    मुझे रुमाल दे दो मेरी नाक बह रही है।
  • आपने कभी सोचा है कि क्रिकेट में अंपायर और क्लास में टीचर दोनों में क्या समानता है?
    दोनों करते कुछ नहीं हैं, बस खड़े-खड़े उंगली करते रहते हैं।
  • जब से मोबाइल में हनुमान चालीसा डाउनलोड करवाया है;
    तब से तुम्हारे SMS बंद हो गए हैं;
    सच ही कहते हैं कि "भूत-पिशाच" निकट नहीं आवे;
    महावीर जब नाम सुनावे।
  • रंगीन हो तुम रंगो से ज्यादा;
    महकते हो तुम फूलों से ज्यादा;
    स्मार्ट हो तुम मुझसे ज्यादा;
    अगर यह सोचते हो तुम तो 'बेवक़ूफ़' हो तुम हद से ज्यादा।
  • जिंदगी में हमेशा एक बात याद रखो;
    कभी किसी का दिल नहीं तोड़ना चाहिए;
    क्योंकि दिल 1 ही होता है;
    तोड़ना ही है तो उसकी हड्डियां तोड़ो 206 होती हैं।
  • एक बात जो सबसे ज्यादा बार एक दोस्त दूसरे दोस्त से कहता है;
    "अपनी आइटम से बोल, मेरी भी सेटिंग करा दे।"
  • ख़ुशी को गम कैसे कह दें;
    आपकी दोस्ती को कम कैसे कह दें;
    ये तो सब कहते हैं आप पागल हो;
    लेकिन सच में हो हम ये कैसे कह दें।
  • जब-जब गरजे बदल तेरी याद आई;
    जम के बरसा बादल तेरी याद आई;
    भीगा मैं लेकिन फिर भी तेरी याद आई;
    क्यों न आए याद?
    तुमने छतरी जो अब तक नहीं लौटाई।
  • बहुत खूबसूरत हो तुम;
    खुद को दुनिया की बुरी नज़र से बचाया करो;
    सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं;
    गले में नींबू-मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT