• लाल फूलों की माला से सजा माँ का दरबार;
    पुलकित हुआ मन, उतावला हुआ संसार;
    माँ अपने क़दमों से आयी है आपके द्वार;
    मुबारक हो आपको नवरात्रि का ये पावन त्योंहार!
  • राम जी की महिमा;
    सीता जी का धैर्य;
    लछमण जी के तेवर और;
    भरत जी का त्याग;
    यह हम सबको जीवन की सीख देतें रहें!
    शुभ चैत्र, नवरात्रि!
  • माँ की ज्योति से प्रेम मिलता है;
    सबके दिलों को मर्म मिलता है;
    जो भी जाता है, माँ के द्वार;
    उसे सुकून जरूर मिलता है!
    शुभ नवरात्रि!
  • प्यार का तराना, उपहार हो;
    खुशिओं का नजराना, बेशुमार हो;
    ना रहे कोई गम का एहसास;
    ऐसा ही नवरात्रि 'उत्सव' इस साल हो;
    शुभ नवरात्रि!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT