• जो हुआ उसे भूल कर, अपनी दुनिया में नया कदम रखना;
    ये दुनिया है बड़ी बे-रहम लेकिन तुम अपनी मंजिल पर नज़र रखना!
  • कुछ कर गुजरने के लिए, मौसम नहीं मन चाहिए;<br />
साधन सभी जुट जायेंगे, संकल्प का धन चाहिए!
    कुछ कर गुजरने के लिए, मौसम नहीं मन चाहिए;
    साधन सभी जुट जायेंगे, संकल्प का धन चाहिए!
  • मंजिल उन्ही को मिलती है;<br />
जिनके सपनो में जान होती है;<br />
पंख से कुछ नहीं होता;<br />
हौसलों से ही उड़ान होती है!
    मंजिल उन्ही को मिलती है;
    जिनके सपनो में जान होती है;
    पंख से कुछ नहीं होता;
    हौसलों से ही उड़ान होती है!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT