• आज-कल पाँव जमीं पर नहीं पड़ते मेरे क्या करूँ,<br/>
आँगन कितना ठंडा है।Upload to Facebook
    आज-कल पाँव जमीं पर नहीं पड़ते मेरे क्या करूँ,
    आँगन कितना ठंडा है।
  • `ठंडे-ठंडे` पानी से नहाना चाहिए` ये गाना सिर्फ गर्मियों में अच्छा लगता है!<br/>
सर्दियों में तो इस पर बैन लगा देना चाहिए!Upload to Facebook
    "ठंडे-ठंडे" पानी से नहाना चाहिए" ये गाना सिर्फ गर्मियों में अच्छा लगता है!
    सर्दियों में तो इस पर बैन लगा देना चाहिए!
  • मौसम के भी अपने नखरे हैं।<br/>
पद्मावती के चक्कर में 4 दिन किसी दिन ने ध्यान नहीं दिया तो दिल्ली का स्मोग अपने आप ठीक हो गया।Upload to Facebook
    मौसम के भी अपने नखरे हैं।
    पद्मावती के चक्कर में 4 दिन किसी दिन ने ध्यान नहीं दिया तो दिल्ली का स्मोग अपने आप ठीक हो गया।
  • रोज नहातम देह घिसतम<br/>
अर्थात...<br/>
रोज नहाने से शरीर घिस जाता है!Upload to Facebook
    रोज नहातम देह घिसतम
    अर्थात...
    रोज नहाने से शरीर घिस जाता है!
  • मुँह से धुआं निकलने वाली ठण्ड, पता नहीं कब पड़ेगी।Upload to Facebook
    मुँह से धुआं निकलने वाली ठण्ड, पता नहीं कब पड़ेगी।
  • जब वैसलीन की एडवरटाइज़मेंट आने लगेंगे,<br/>
तब मैं मानूँगा कि ठंड आ गयी!Upload to Facebook
    जब वैसलीन की एडवरटाइज़मेंट आने लगेंगे,
    तब मैं मानूँगा कि ठंड आ गयी!
  • सर्दियों में हाथ मिलाने की बजाय राम-राम का उपयोग ज़्यादा करें!<br/>
हो सकता है सामने वाले ने नाक साफ़ करके हाथ ना धोए हों!Upload to Facebook
    सर्दियों में हाथ मिलाने की बजाय राम-राम का उपयोग ज़्यादा करें!
    हो सकता है सामने वाले ने नाक साफ़ करके हाथ ना धोए हों!
  • आज मैंने स्वेटर पहन लिया,<br/>
क्या समाज मुझे स्वीकार करेगा!Upload to Facebook
    आज मैंने स्वेटर पहन लिया,
    क्या समाज मुझे स्वीकार करेगा!
  • अब तो दीपावली भी देख ली.... कब जाओगी गर्मी! Upload to Facebook
    अब तो दीपावली भी देख ली.... कब जाओगी गर्मी!
  • हे प्रभु बारिश करवा रहे हो या बॉडी स्प्रे मार रहे हो?<br/>
वहाँ ऊपर भी Fogg चल रहा है क्या?Upload to Facebook
    हे प्रभु बारिश करवा रहे हो या बॉडी स्प्रे मार रहे हो?
    वहाँ ऊपर भी Fogg चल रहा है क्या?
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT