यादें Hindi SMS

Page: 1
दिल की बात किसी से कही नहीं जाती;<br/>
दिल की हालत अब हमसे सही नहीं जाती;<br/>
तड़पती तो होगी वो भी हमारी तरह;<br/>
वरना यूँ ही किसी की याद हर पल नहीं आती।
दिल की बात किसी से कही नहीं जाती;
दिल की हालत अब हमसे सही नहीं जाती;
तड़पती तो होगी वो भी हमारी तरह;
वरना यूँ ही किसी की याद हर पल नहीं आती।
कौन कहता है हम आपको याद नहीं करते;<br/>
करते तो हैं मगर इज़हार नहीं करते;<br/>
सोचते हैं कहीं यादें बिखर न जायें;<br/>
इसलिए हर बार दीदार नहीं करते।
कौन कहता है हम आपको याद नहीं करते;
करते तो हैं मगर इज़हार नहीं करते;
सोचते हैं कहीं यादें बिखर न जायें;
इसलिए हर बार दीदार नहीं करते।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;<br/>
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;<br/>
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;<br/>
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो इल्ज़ाम क्या दूँ।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो इल्ज़ाम क्या दूँ।
यादों की भीड़ में आप की परछाई सी लगती है;
कानों में कोई आवाज़ एक शहनाई सी लगती है;
जब आप करीब हैं तो अपना सा लगता है;
वर्ना सीने में सांस भी पराई सी लगती है।
बिखरे अश्कों के मोती हम पिरो न सके;<br/>
तेरी याद में सारी रात सो न सके;<br/>
मिट न जाये आँसुओं से याद;<br/>
यही सोच कर हम रो न सके।
बिखरे अश्कों के मोती हम पिरो न सके;
तेरी याद में सारी रात सो न सके;
मिट न जाये आँसुओं से याद;
यही सोच कर हम रो न सके।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;<br/>
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;<br/>
समझ आये तो हमें भी बताना;<br/>
कि क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;
समझ आये तो हमें भी बताना;
कि क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
एक आरज़ू सी है कि उन्हें भूल जाएँ हम;<br/>
मगर उनकी यादों के आगे तो यह हसरत भी हार जाती है।
एक आरज़ू सी है कि उन्हें भूल जाएँ हम;
मगर उनकी यादों के आगे तो यह हसरत भी हार जाती है।
मेरी आँखें तेरे दीदार को तरसती हैं;<br/>
मेरी नस-नस तेरे प्यार  तरसती है;<br/>
तू ही बता कि तुझे बताऊँ कैसे;<br/>
कि मेरी रूह तक तेरी याद में तड़पती है।
मेरी आँखें तेरे दीदार को तरसती हैं;
मेरी नस-नस तेरे प्यार तरसती है;
तू ही बता कि तुझे बताऊँ कैसे;
कि मेरी रूह तक तेरी याद में तड़पती है।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;<br/>
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;<br/>
समझ आये तो मुझे भी बताना कि;<br/>
क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;
समझ आये तो मुझे भी बताना कि;
क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
साँस लेने से उसकी याद आती है;<br/>
और ना लेने पे जान जाती है;<br/>
कैसे कह दूँ की सिर्फ़ साँसों क सहारे जिंदा हूँ;<br/>
कमब्खत साँस भी तो उसकी याद के बाद आती है।
साँस लेने से उसकी याद आती है;
और ना लेने पे जान जाती है;
कैसे कह दूँ की सिर्फ़ साँसों क सहारे जिंदा हूँ;
कमब्खत साँस भी तो उसकी याद के बाद आती है।

Quotes

प्रत्येक आत्मा स्वयं में सर्वज्ञ और आनंदमय है। आनंद बाहर से नहीं आता।

Trivia

The average male spends 43 minutes a day staring at 10 different women.

Graffiti

Alimony - When two people make a mistake and one of them continues to pay for it!