• ख़ुशी से दिल को आबाद करना;<br />
ग़म को दिल से आज़ाद करना;<br />
बस इतनी गुज़ारिश है आपसे कि;<br />
हो सके तो दुआ में एक बार याद जरुर करना।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    ख़ुशी से दिल को आबाद करना;
    ग़म को दिल से आज़ाद करना;
    बस इतनी गुज़ारिश है आपसे कि;
    हो सके तो दुआ में एक बार याद जरुर करना।
    शुभ रात्रि!
  • साथ ना छूटे आप से कभी यह दुआ करता हूँ;<br />
हाथों में सदा आपका हाथ रहे बस यही फरियाद करता हूँ;<br />
हो भी जाये अगर कभी दूरी हमारे दरमियान;<br />
दिल से ना हों जुदा, रब्ब से यही इल्तिजा करता हूँ।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    साथ ना छूटे आप से कभी यह दुआ करता हूँ;
    हाथों में सदा आपका हाथ रहे बस यही फरियाद करता हूँ;
    हो भी जाये अगर कभी दूरी हमारे दरमियान;
    दिल से ना हों जुदा, रब्ब से यही इल्तिजा करता हूँ।
    शुभ रात्रि!
  • चाँद ने अपनी चांदनी बिखेरी है;<br />
और तारों ने आसमान को सजाया है;<br />
कहने को आपको शुभ रात्रि;<br />
देखो रात का फरिश्ता आया है।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    चाँद ने अपनी चांदनी बिखेरी है;
    और तारों ने आसमान को सजाया है;
    कहने को आपको शुभ रात्रि;
    देखो रात का फरिश्ता आया है।
    शुभ रात्रि!
  • तनहा जब दिल होगा, आपको आवाज़ दिया करेंगे;<br />
रात में सितारों से आपका जिक्र किया करेंगे;<br />
आप आये या ना आये हमारे ख्वाबों में;<br />
हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    तनहा जब दिल होगा, आपको आवाज़ दिया करेंगे;
    रात में सितारों से आपका जिक्र किया करेंगे;
    आप आये या ना आये हमारे ख्वाबों में;
    हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे।
    शुभ रात्रि!
  • चाँद तारों से रात जगमगाने लगी है;<br />
फूलों की खुशबू भी दुनिया को महकाने लगी है;
हो चुकी है अब यह रात गहरी;<br />
है खामोश अब चारों दिशाएं;<br />
लगता है इनको भी निंदिया रानी आने लगी है।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    चाँद तारों से रात जगमगाने लगी है;
    फूलों की खुशबू भी दुनिया को महकाने लगी है; हो चुकी है अब यह रात गहरी;
    है खामोश अब चारों दिशाएं;
    लगता है इनको भी निंदिया रानी आने लगी है।
    शुभ रात्रि!
  • जैसे चाँद का काम है रात में रौशनी देना;<br />
तारों का काम है सारी रात चमकते रहना;<br />
दिल का काम है अपनों की याद में धड़कते रहना;<br />
वैसे हमारा है काम अपनों की सलामती की दुआ करते रहना।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    जैसे चाँद का काम है रात में रौशनी देना;
    तारों का काम है सारी रात चमकते रहना;
    दिल का काम है अपनों की याद में धड़कते रहना;
    वैसे हमारा है काम अपनों की सलामती की दुआ करते रहना।
    शुभ रात्रि!
  • चाँदनी जैसे बिखर गई है सारी;<br />
रब से है ये दुआ हमारी;<br />
जितनी प्यारी है तारों की यारी;<br />
आपकी नींद भी हो उतनी ही प्यारी।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    चाँदनी जैसे बिखर गई है सारी;
    रब से है ये दुआ हमारी;
    जितनी प्यारी है तारों की यारी;
    आपकी नींद भी हो उतनी ही प्यारी।
    शुभ रात्रि!
  • जब आ जाते हैं आँसू तो रो जाते हैं;<BR>
जब आते हैं ख्वाब तो खो जाते हैं;<BR>
नींद आंखो में आती नहीं;<BR>
बस आप ख्वाबो में आओगें;<BR>
यही सोचकर हम सो जाते हैं।<BR>
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    जब आ जाते हैं आँसू तो रो जाते हैं;
    जब आते हैं ख्वाब तो खो जाते हैं;
    नींद आंखो में आती नहीं;
    बस आप ख्वाबो में आओगें;
    यही सोचकर हम सो जाते हैं।
    शुभ रात्रि!
  • ज़िन्दगी में किसी का साथ काफी है;<br />
हाथों में किसी का हाथ काफी है;<br />
दूर हो या पास फर्क नहीं पड़ता;<br />
प्यार का तो बस अहसास ही काफी है।Upload to Facebook
    ज़िन्दगी में किसी का साथ काफी है;
    हाथों में किसी का हाथ काफी है;
    दूर हो या पास फर्क नहीं पड़ता;
    प्यार का तो बस अहसास ही काफी है।
  • चाँद ने अपनी चांदनी बिखेरी है;<br />
और तारों ने आसमान को सजाया है;<br />
कहने को शुभ रात्रि आपको;<br />
देखो हमारा यह पैगाम आया है।<br />
शुभ रात्रि!Upload to Facebook
    चाँद ने अपनी चांदनी बिखेरी है;
    और तारों ने आसमान को सजाया है;
    कहने को शुभ रात्रि आपको;
    देखो हमारा यह पैगाम आया है।
    शुभ रात्रि!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT