शुभ रात्रि Hindi SMS

कोई दौलत पर नाज़ करता है;<br/>
कोई शोहरत पर नाज़ करता है;<br/>
जिसे मिलती हैं आपकी दुआएं;<br/>
वो किस्मत पर नाज़ करता है।<br/>
शुभ रात्रि!
कोई दौलत पर नाज़ करता है;
कोई शोहरत पर नाज़ करता है;
जिसे मिलती हैं आपकी दुआएं;
वो किस्मत पर नाज़ करता है।
शुभ रात्रि!
जीवन की इस रात में तू चाँद और मैं सितारा होता;<br/>
आसमान में एक आशियाना हमारा होता;<br/>
लोग तुम्हें दूर से देखते;<br/>
नज़दीक़ से देखने का हक़ बस हमारा होता।<br/>
शुभ रात्रि!
जीवन की इस रात में तू चाँद और मैं सितारा होता;
आसमान में एक आशियाना हमारा होता;
लोग तुम्हें दूर से देखते;
नज़दीक़ से देखने का हक़ बस हमारा होता।
शुभ रात्रि!
अगर मंज़िल पानी है तो हौंसला साथ रखना;<br/>
अगर प्यार पाना है तो ऐतबार साथ रखना;<br/>
और अगर हमेशा मुस्कुराना है तो सोने से पहले हमें याद रखना।<br/>
शुभ रात्रि!
अगर मंज़िल पानी है तो हौंसला साथ रखना;
अगर प्यार पाना है तो ऐतबार साथ रखना;
और अगर हमेशा मुस्कुराना है तो सोने से पहले हमें याद रखना।
शुभ रात्रि!
सपनों की दुनिया में हम खोते चले गए;<br/>
मदहोश न थे मदहोश होते चले गए;<br/>
न जाने क्या बात थी आपके चेहरे में;<br/>
न चाहते हुए भी आपके होते चले गए।<br/>
शुभ रात्रि!
सपनों की दुनिया में हम खोते चले गए;
मदहोश न थे मदहोश होते चले गए;
न जाने क्या बात थी आपके चेहरे में;
न चाहते हुए भी आपके होते चले गए।
शुभ रात्रि!
दिल के सागर मे लहरें उठाया ना करो;<br/>
ख्वाब बनकर नींद चुराया ना करो;<br/>
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को;<br/>
तुम ख़्वाबों में आ कर यूँ तडपाया ना करो।<br/>
शुभ रात्रि!
दिल के सागर मे लहरें उठाया ना करो;
ख्वाब बनकर नींद चुराया ना करो;
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को;
तुम ख़्वाबों में आ कर यूँ तडपाया ना करो।
शुभ रात्रि!
वो दिन दिन नही, वो रात रात नही;<br/>
वो पल पल नही, जिस पल आपकी बात नही;<br/>
आपकी यादों से मौत हमे अलग कर सके;<br/>
मौत की भी इतनी औकात नही।<br/>
शुभ रात्रि!
वो दिन दिन नही, वो रात रात नही;
वो पल पल नही, जिस पल आपकी बात नही;
आपकी यादों से मौत हमे अलग कर सके;
मौत की भी इतनी औकात नही।
शुभ रात्रि!
जब आपका नाम ज़ुबान पर आता है;<br/>
पता नही दिल क्यों मुस्कुराता है;<br/>
होती है तसल्ली यह सोच कर हमारे दिल को;<br/>
कि चलो कोई तो है अपना जो हर वक़्त याद आता है।<br/>
शुभ रात्रि!
जब आपका नाम ज़ुबान पर आता है;
पता नही दिल क्यों मुस्कुराता है;
होती है तसल्ली यह सोच कर हमारे दिल को;
कि चलो कोई तो है अपना जो हर वक़्त याद आता है।
शुभ रात्रि!
दिल में, होंठों पे एक दुआ रहती है;
हर घडी मुझे आप की परवाह रहती है;
खुदा हर ख़ुशी बख्शे आपको;
हर दुआ में एहि गुज़ारिश रहती है।
शुभ रात्रि!
हम कभी अपनों से ख़फ़ा हो नहीं सकते;<br/>
दोस्ती के रिश्ते बेवफ़ा हो नहीं सकते;<br/>
आप भले हमें भुला के सो जाओ;<br/>
हम आपको याद किये बिना सो नहीं सकते।<br/>
शुभ रात्रि!
हम कभी अपनों से ख़फ़ा हो नहीं सकते;
दोस्ती के रिश्ते बेवफ़ा हो नहीं सकते;
आप भले हमें भुला के सो जाओ;
हम आपको याद किये बिना सो नहीं सकते।
शुभ रात्रि!
जब भी इस दिल को आपकी याद आती है;<br/>
इस दिल ने सच्ची ख़ुशी मिल जाती है;<br/>
डर लगता है कि कहीं छूट न जाये आपका ये साथ;<br/>
इस लिए रब से आपको पाने की दुआ मांगी है।<br/>
शुभ रात्रि!
जब भी इस दिल को आपकी याद आती है;
इस दिल ने सच्ची ख़ुशी मिल जाती है;
डर लगता है कि कहीं छूट न जाये आपका ये साथ;
इस लिए रब से आपको पाने की दुआ मांगी है।
शुभ रात्रि!

Quotes

किसी मूर्ख व्यक्ति के लिए किताबें उतनी ही उपयोगी हैं जितना कि एक अंधे व्यक्ति के लिए आईना।

Trivia

Mary Gibbs (voice of Boo in Monsters Inc.) was too young to sit to record her lines, so they followed her around with a mike.

Graffiti

If it weren't for the rains, people would be all dry.