• किसी होशियार इंसान ने सच कहा है ज़िन्दगी 2 दिन की है,
    "शनिवार और रविवार"
  • समझ नहीं आ रहा आज जागना है या सोना है;<br />
क्योंकि आज काम तो कुछ नहीं होना है;<br />
दोस्तों के संग मौज, घूमना और सैर सपाटा होना है;<br />
क्योंकि सप्ताहांत शुरू हो गया है, अब तो धमाल ही धमाल होना है।<br />
शुभ सप्ताहांत!Upload to Facebook
    समझ नहीं आ रहा आज जागना है या सोना है;
    क्योंकि आज काम तो कुछ नहीं होना है;
    दोस्तों के संग मौज, घूमना और सैर सपाटा होना है;
    क्योंकि सप्ताहांत शुरू हो गया है, अब तो धमाल ही धमाल होना है।
    शुभ सप्ताहांत!
  • ख़ुशी से दिल को आबाद करना;<br/>
ग़म को दिल से आज़ाद करना;<br/>
बस इतनी गुज़ारिश है आपसे कि;<br/>
हो सके तो सप्ताह में एक बार याद जरुर करना।<br/>
शुभ सप्ताहंत!Upload to Facebook
    ख़ुशी से दिल को आबाद करना;
    ग़म को दिल से आज़ाद करना;
    बस इतनी गुज़ारिश है आपसे कि;
    हो सके तो सप्ताह में एक बार याद जरुर करना।
    शुभ सप्ताहंत!
  • आपका मुस्कुराना हर रोज़ हो;<br/>

चेहरा आपका सदा अफ़रोज़ हो;<br/>

हर पल ख़ुशी और हर पल मौज हो;<br/>

बस ऐसा ही दिन आपका हर रोज़ हो।<br/>

शुभ सप्ताहांत।Upload to Facebook
    आपका मुस्कुराना हर रोज़ हो;
    चेहरा आपका सदा अफ़रोज़ हो;
    हर पल ख़ुशी और हर पल मौज हो;
    बस ऐसा ही दिन आपका हर रोज़ हो।
    शुभ सप्ताहांत।
  • मौत का बेरहम इतिहास बदल सकते हो;<br/>
पुण्य में पाप का विश्वास बदल सकते हो;<br/>
अपनी बाहों पर भरोसा अगर कर लो तो;<br/>
यह तो धरती तो क्या, तुम आकाश बदल सकते हो।<br/>
शुभ सप्ताहांत।Upload to Facebook
    मौत का बेरहम इतिहास बदल सकते हो;
    पुण्य में पाप का विश्वास बदल सकते हो;
    अपनी बाहों पर भरोसा अगर कर लो तो;
    यह तो धरती तो क्या, तुम आकाश बदल सकते हो।
    शुभ सप्ताहांत।
  • फूल खिलते रहें ज़िंदगी की राह में;<br/>
हंसी चमकती रहे आपकी निगाह में;<br/>
कदम-कदम पर मिले ख़ुशी बहार आपको;<br/>
दिल देता है यही दुआ बार-बार आपको।<br/>
शुभ सप्ताहांत!Upload to Facebook
    फूल खिलते रहें ज़िंदगी की राह में;
    हंसी चमकती रहे आपकी निगाह में;
    कदम-कदम पर मिले ख़ुशी बहार आपको;
    दिल देता है यही दुआ बार-बार आपको।
    शुभ सप्ताहांत!
  • आँखों में हज़ारों सपने सजाए हैँ;
    दिल में चाहत के दीप जलाए हैँ;
    ऐ-खुदा पूरा हो हर सपना उनकी निगाहों का;
    जो इस वक़्त मेरे एसएमएस में नज़रें जमाए हैं।
    शुभ सप्ताह!
  • ये भी एक दुआ है खुदा से;<br/>
किसी का दिल ना दुखे मेरी वजह से;<br/>
ऐ खुदा कर दे कुछ ऐसी इनायत मुझ पर;<br/>
कि सबको खुशियाँ मिलें मेरी वजह से।<br/>
शुभ सप्ताह!Upload to Facebook
    ये भी एक दुआ है खुदा से;
    किसी का दिल ना दुखे मेरी वजह से;
    ऐ खुदा कर दे कुछ ऐसी इनायत मुझ पर;
    कि सबको खुशियाँ मिलें मेरी वजह से।
    शुभ सप्ताह!
  • करीब कोई ग़म आपके आए ना;<br/>
आने वाला वक़्त आपको कभी रुलाए ना;<br/>
भरा रहे खुशियों से दामन आपका;<br/>
खुदा ये मेरी आरज़ू कभी ठुकराए ना।<br/>
शुभ सप्ताह!Upload to Facebook
    करीब कोई ग़म आपके आए ना;
    आने वाला वक़्त आपको कभी रुलाए ना;
    भरा रहे खुशियों से दामन आपका;
    खुदा ये मेरी आरज़ू कभी ठुकराए ना।
    शुभ सप्ताह!
  • हर सपने को अपनी साँसों में रखो;<br/>
हर मंज़िल को अपनी बाहों में रखो;<br/>
हर जीत आपकी है;<br/>
बस लक्ष्य को अपनी निगाहों में रखो।<br/>
शुभ सप्ताह!Upload to Facebook
    हर सपने को अपनी साँसों में रखो;
    हर मंज़िल को अपनी बाहों में रखो;
    हर जीत आपकी है;
    बस लक्ष्य को अपनी निगाहों में रखो।
    शुभ सप्ताह!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT