• संता को एक भिखारी मंदिर के बाहर मिला!<br/>
भिखारी: भगवान के नाम पर कुछ दे दो साहब, चार दिन से कुछ नहीं खाया!<br/>
संता: 500 का नोट निकालते हुए बोला 400 खुले हैं!<br/>
भिखारी: हाँ, जी साहब हैं!<br/>
संता: तो साले उससे लेकर कुछ खा ले!
    संता को एक भिखारी मंदिर के बाहर मिला!
    भिखारी: भगवान के नाम पर कुछ दे दो साहब, चार दिन से कुछ नहीं खाया!
    संता: 500 का नोट निकालते हुए बोला 400 खुले हैं!
    भिखारी: हाँ, जी साहब हैं!
    संता: तो साले उससे लेकर कुछ खा ले!
  • विदेश यात्रा से लौटकर आये संता ने अपनी बीवी से पूछा: क्या मैं विदेशी जैसा दिखता हूँ!<br/>
बीवी: नहीं तो!<br/>
संता: तो फिर लन्दन में एक औरत क्यों पूछ रही थी कि मैं विदेशी हूँ!
    विदेश यात्रा से लौटकर आये संता ने अपनी बीवी से पूछा: क्या मैं विदेशी जैसा दिखता हूँ!
    बीवी: नहीं तो!
    संता: तो फिर लन्दन में एक औरत क्यों पूछ रही थी कि मैं विदेशी हूँ!
  • संता: मेरे दादा ने 1857 की जंग में दुश्मनों की टांगें काट दी थी!<br/>
बंता: गर्दनें क्यों नहीं काटी?<br/>
संता: वे पहले ही कट चुकी थी!
    संता: मेरे दादा ने 1857 की जंग में दुश्मनों की टांगें काट दी थी!
    बंता: गर्दनें क्यों नहीं काटी?
    संता: वे पहले ही कट चुकी थी!
  • एक दिन संता को फांसी लगने वाली थी!<br/>
जेलर: कोई आखिरी ख्वाहिश!<br/>
संता: मुझे फांसी देते वक़्त मेरे पैर ऊपर और सिर नीचे रखना!
    एक दिन संता को फांसी लगने वाली थी!
    जेलर: कोई आखिरी ख्वाहिश!
    संता: मुझे फांसी देते वक़्त मेरे पैर ऊपर और सिर नीचे रखना!
  • डॉक्टर: जब आपको पता था कि छिपकली आप के मुँह में घुस रही है! तो आप चुप क्यों थे?<br/>
संता: पहले कॉकरोच गया था तो मुझे लगा कि छिपकली उसे पकड़ लेगी!
    डॉक्टर: जब आपको पता था कि छिपकली आप के मुँह में घुस रही है! तो आप चुप क्यों थे?
    संता: पहले कॉकरोच गया था तो मुझे लगा कि छिपकली उसे पकड़ लेगी!
  • बंता: भाई क्या करते हो?<br/>
संता: शाम को 7 बजे शराब पीता हूँ!<br/>
बंता: भाई 7 को शाम को बजते हैं, पूरा दिन क्या करते हो?<br/>
संता:  पूरा दिन इंतज़ार करता हूँ!<br/>
बंता: किस चीज़ का?<br/>
संता: 7 बजने का!
    बंता: भाई क्या करते हो?
    संता: शाम को 7 बजे शराब पीता हूँ!
    बंता: भाई 7 को शाम को बजते हैं, पूरा दिन क्या करते हो?
    संता: पूरा दिन इंतज़ार करता हूँ!
    बंता: किस चीज़ का?
    संता: 7 बजने का!
  • संता: पप्पू, मेरे जूते ले आ!<br/>
पप्पू: एक लाऊँ या दोनों?<br/>
संता: वैसे ज़रूरत तो दोनों की ही थी... पर अब तू एक ही ले आ!
    संता: पप्पू, मेरे जूते ले आ!
    पप्पू: एक लाऊँ या दोनों?
    संता: वैसे ज़रूरत तो दोनों की ही थी... पर अब तू एक ही ले आ!
  • संता: तेरी बीवी ने तुझे घर से क्यों निकाला?<br/>
बंता: तेरे कहने पर उसे चैन गिफ्ट की थी इसलिए निकाला!<br/>
संता: चाँदी की थी क्या?<br/>
बंता: नहीं साइकिल की!
    संता: तेरी बीवी ने तुझे घर से क्यों निकाला?
    बंता: तेरे कहने पर उसे चैन गिफ्ट की थी इसलिए निकाला!
    संता: चाँदी की थी क्या?
    बंता: नहीं साइकिल की!
  • संता रिक्शेवाले से: हाँ, भाई खाली हो?<br/>
रिक्शेवाला: हाँ जी बिलकुल खाली हूँ!<br/>
संता: आओ चलो फिर ताश खेलते हैं!
    संता रिक्शेवाले से: हाँ, भाई खाली हो?
    रिक्शेवाला: हाँ जी बिलकुल खाली हूँ!
    संता: आओ चलो फिर ताश खेलते हैं!
  • संता: मैं कल रात ट्रेन में सारी रात सो नहीं पाया! दरअसल मुझे ऊपर वाली सीट मिली थी! मुझे उस पर नींद नहीं आती!<br/>
बंता: तो किसी से बदल लेते!<br/>
संता: अरे किस से बदलता नीचे वाली सीट पर कोई था ही नहीं!
    संता: मैं कल रात ट्रेन में सारी रात सो नहीं पाया! दरअसल मुझे ऊपर वाली सीट मिली थी! मुझे उस पर नींद नहीं आती!
    बंता: तो किसी से बदल लेते!
    संता: अरे किस से बदलता नीचे वाली सीट पर कोई था ही नहीं!