• जीतो: खिचड़ी बनाऊँ या बिरयानी?<br/>
संता: तू पहले बना ले... फिर नाम रखेंगे।
    जीतो: खिचड़ी बनाऊँ या बिरयानी?
    संता: तू पहले बना ले... फिर नाम रखेंगे।
  • रद्दी खरीदने वाला: साहब पुराने कपडे, पेपर, बर्तन हो तो दे दीजिये।<br/>
संता:अभी जाओ मेम साहब नहीं हैं, मायके गयी हैं।<br/>
रद्दी वाला (पूरे विश्वास से): तो फिर खाली बोतलें ही दे दीजिये।
    रद्दी खरीदने वाला: साहब पुराने कपडे, पेपर, बर्तन हो तो दे दीजिये।
    संता:अभी जाओ मेम साहब नहीं हैं, मायके गयी हैं।
    रद्दी वाला (पूरे विश्वास से): तो फिर खाली बोतलें ही दे दीजिये।
  • बंता: यार वो कौन से 6 बच्चे हैं जो खुद सारा दिन आवारागर्दी करते हैं, ना खुद पढ़ते हैं और ना दूसरे बच्चों को पढ़ने देते हैं।<br/>
संता: वही नोबिता, शिज़ुका, जियान, सुनीयो, छोटा भीम और वो साला डोरेमोन।
    बंता: यार वो कौन से 6 बच्चे हैं जो खुद सारा दिन आवारागर्दी करते हैं, ना खुद पढ़ते हैं और ना दूसरे बच्चों को पढ़ने देते हैं।
    संता: वही नोबिता, शिज़ुका, जियान, सुनीयो, छोटा भीम और वो साला डोरेमोन।
  • बंता: परिवर्तन की क्या परिभाषा है?<br/>
संता (शायराना अंदाज़ में): जो कभी बादलों की गरज से डर कर लिपट जाती थी मुझसे,<br/>
आज वह खुद बादलों से भी ज्यादा गरजती है।<br/>
~ पत्नियों को समर्पित
    बंता: परिवर्तन की क्या परिभाषा है?
    संता (शायराना अंदाज़ में): जो कभी बादलों की गरज से डर कर लिपट जाती थी मुझसे,
    आज वह खुद बादलों से भी ज्यादा गरजती है।
    ~ पत्नियों को समर्पित
  • संता: चाकू क्यों उबाल रहे हो?<br/>
बंता: ख़ुदकुशी करने के लिए।<br/>
संता: मगर इसे उबालने की क्या ज़रुरत?<br/>
बंता: मुझे कहीं इन्फेक्शन हो गया तो?
    संता: चाकू क्यों उबाल रहे हो?
    बंता: ख़ुदकुशी करने के लिए।
    संता: मगर इसे उबालने की क्या ज़रुरत?
    बंता: मुझे कहीं इन्फेक्शन हो गया तो?
  • जीतो अपने शराबी पति को सुधारने के लिए काले कपडे पहन कर घर के बाहर खड़ी हो गयी।<br/>
संता: तुम कौन हो?<br/>
जीतो: चुड़ैल<br/>
संता: हाथ मिला, मैं तेरी बहन का पति।
    जीतो अपने शराबी पति को सुधारने के लिए काले कपडे पहन कर घर के बाहर खड़ी हो गयी।
    संता: तुम कौन हो?
    जीतो: चुड़ैल
    संता: हाथ मिला, मैं तेरी बहन का पति।
  • जीतो: आप जो मुझे नाम लेकर बुलाते हैं इस कारण बच्चे भी मुझे नाम लेकर बुलाने लगे हैं।<br/>
संता: अच्छा! कल से मैं तुम्हें मम्मी कहकर बुलाऊँगा।
    जीतो: आप जो मुझे नाम लेकर बुलाते हैं इस कारण बच्चे भी मुझे नाम लेकर बुलाने लगे हैं।
    संता: अच्छा! कल से मैं तुम्हें मम्मी कहकर बुलाऊँगा।
  • बंता: भाई परेशान क्यों है?<br/>
संता: आज कौन सी दारु पी जाये इसी Scotch में डूबा हूँ।
    बंता: भाई परेशान क्यों है?
    संता: आज कौन सी दारु पी जाये इसी Scotch में डूबा हूँ।
  • बंता: यार मैं बहुत परेशान हूँ, मेरी बीवी मुझसे 1 पप्पी का 100 रुपये लेती है।<br/>
संता: तू तो किस्मत वाला है यार! दूसरों से 500 रुपये लेती है।
    बंता: यार मैं बहुत परेशान हूँ, मेरी बीवी मुझसे 1 पप्पी का 100 रुपये लेती है।
    संता: तू तो किस्मत वाला है यार! दूसरों से 500 रुपये लेती है।
  • मिनी: मैं पडोसी से प्यार करती हूँ और उसके साथ भाग रही हूँ।<br/>
बंता: अरे, वाह, बहुत बढ़िया मेरे पास और समय दोनों बच गए।<br/>
मिनी: पापा, मैं चिट्ठी पढ़ रही हूँ, जो मम्मी रखकर गयी है।
    मिनी: मैं पडोसी से प्यार करती हूँ और उसके साथ भाग रही हूँ।
    बंता: अरे, वाह, बहुत बढ़िया मेरे पास और समय दोनों बच गए।
    मिनी: पापा, मैं चिट्ठी पढ़ रही हूँ, जो मम्मी रखकर गयी है।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT