• प्रवचन सुनकर लौटी जीतो ने संता से कहा, "बाबा जी कह रहे थे कि रामराज्य में, शेर और बकरी एक ही घाट पर पानी पिया करते थे! ऐसा कैसे हो सकता है भला?"
    संता: हो क्यों नहीं सकता, क्या मैं तुम्हारे साथ नहीं रहता?
  • संता : लोग पूछते हैं क्या यह सरकार गिरेगी?
    बंता : तुम्हारे क्या ख्याल है?
    संता: मैं पूछता हूँ कि और कितना गिरेगी?
  • संता अपनी सैलरी का चेक लेकर बॉस के पंहुचा और बोला, "मेरे वेतन में से दो सौ रुपये कम हैं"!
    बॉस: पिछले महीने जब मैंने तुम्हें दो सौ रुपये ज्यादा का चेक दिया था, तब तो तुमने कोई शिकायत नहीं की थी!
    संता: ठीक है, वह आपकी पहली गलती थी, इसलिए मैंने नज़र अंदाज़ कर दी! लेकिन अगर आप बार-बार गलती करेंगे तो मुझे आपको कहना ही पड़ेगा ना!
  • संता: तुमसे शादी करके मुझे एक बहुत बड़ा फायदा हुआ है!
    जीतो: वो क्या?
    संता: मुझे मेरे गुनाहों की 'सज़ा' जीते जी मिल रही है!
  • भिखारी: क्या बात है साहब, पहले आप सौ रुपये देते थे, बाद में पचास, फिर पच्चीस, अब सिर्फ दस देते हैं?
    संता: पहले मैं कुंवारा था, तो मैं सौ देता था! फिर मेरी शादी हो गयी, तो पचास; एक बच्चा हो गया तो पच्चीस; अब दो बच्चे हैं तो दस देता हूं!
    भिखरी: वाह साहब, आपके पूरे परिवार का खर्चा तो मेरे पैसों से चल रहा है!
  • जब संता ने प्यार में धोखा खाया तो बंता ने उससे पूछा, "अबे तुमने उसमें क्या देखा?"
    संता: उसकी एक आंख इतनी सुंदर थी कि उसकी दूसरी आँख भी उसी को देख रही थी!
  • जीतो: रात को मोबाइल चार्जिंग पर न लगाओ, ब्लास्ट हो सकता है!
    संता: ओये, तु चैन से सोजा और मुझे इतना भी बेवकूफ न समझ; मैंने बैट्री निकाल दी है!
  • बंता: फ़िल्मी जिंदगी और असली जिंदगी में क्या अंतर है?
    संता: फिल्मों में बहुत मुश्किलों के बाद शादी होती है और असली जिंदगी में शादी के बाद बहुत मुश्किल होती है!
  • जीतो (ग़ुस्से में): तुम्हारे दिमाग में तो सिर्फ 'गोबर' ही भरा है!
    संता (प्यार से): तो फिर इतनी देर से 'चाट' क्यों रही हो?
  • संता और बंता एक शादी में गये!
    संता: लो, कुछ दिन पहले ही गोद में खेला करती थी और आज इसकी शादी है!
    बंता: क्या आप दुल्हन के बाप हो?
    संता: नहीं, दुल्हन का बॉस हूँ!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT