• जिक्र हुआ जब खुदा की रहमतों का;<br/>
हमने खुद को सबसे खुशनसीब पाया;<br/>
तमन्ना थी एक प्यारे से दोस्त की;<br/>
खुदा खुद दोस्त बनकर चला आया।<br/>
सालगिरह मुबारक!
    जिक्र हुआ जब खुदा की रहमतों का;
    हमने खुद को सबसे खुशनसीब पाया;
    तमन्ना थी एक प्यारे से दोस्त की;
    खुदा खुद दोस्त बनकर चला आया।
    सालगिरह मुबारक!
  • बदलना आता नहीं हमको मौसमों की तरह;<br/>
हर एक रूप में तेरा इंतज़ार करते हैं;<br/>
न तुम समेट सकोगी जिसे क़यामत तक;<br/>
कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं।
    बदलना आता नहीं हमको मौसमों की तरह;
    हर एक रूप में तेरा इंतज़ार करते हैं;
    न तुम समेट सकोगी जिसे क़यामत तक;
    कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं।
  • आपके आने से जिंदगी कितनी खूबसूरत है;<br/>
दिल में बसाई है जो वो आपकी ही सूरत है;<br/>
दूर जाना नहीं हमसे कभी भूलकर भी;<br/>
हमें हर कदम पर आपकी जरुरत है।<br/>
हैप्पी एनिवर्सरी!
    आपके आने से जिंदगी कितनी खूबसूरत है;
    दिल में बसाई है जो वो आपकी ही सूरत है;
    दूर जाना नहीं हमसे कभी भूलकर भी;
    हमें हर कदम पर आपकी जरुरत है।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
  • कभी तो सूरज ने भी चाँद से मोहब्बत की होगी;<br/>
तभी तो चाँद में दाग़ है;<br/>
मुमकिन है चाँद से हो गई होगी बेवफाई;<br/>
तभी तो सूरज में आग है।
    कभी तो सूरज ने भी चाँद से मोहब्बत की होगी;
    तभी तो चाँद में दाग़ है;
    मुमकिन है चाँद से हो गई होगी बेवफाई;
    तभी तो सूरज में आग है।
  • चेहरे पे मेरे ज़ुल्फ़ को फैलाओ किसी दिन;<br/>
क्या रोज़ गरजते हो बरस जाओ किसी दिन;<br/>
खुशबु की तरह गुज़रो मेरे दिल की गली से;<br/>
फूलों की तरह मुझ पे बिखर जाओ किसी दिन।<br/>
हैप्पी एनिवर्सरी!
    चेहरे पे मेरे ज़ुल्फ़ को फैलाओ किसी दिन;
    क्या रोज़ गरजते हो बरस जाओ किसी दिन;
    खुशबु की तरह गुज़रो मेरे दिल की गली से;
    फूलों की तरह मुझ पे बिखर जाओ किसी दिन।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
  • एक और साल बनाने के लिए अनमोल यादें;<br/>
एक साथ बिताने के लिए एक साल;<br/>
और शुरुआत करने के लिए एक पल;<br/>
और मजबूत बनाने के लिए 'हैप्पी एनिवर्सरी।'
    एक और साल बनाने के लिए अनमोल यादें;
    एक साथ बिताने के लिए एक साल;
    और शुरुआत करने के लिए एक पल;
    और मजबूत बनाने के लिए 'हैप्पी एनिवर्सरी।'
  • दुनिया जिसे नींद कहती है;<br/>
जाने वो क्या चीज़ होती है;<br/>
आँखें तो हम भी बंद करते हैं;<br/>
और वो आपसे मिलने की तरक़ीब होती है।<br/>
हैप्पी एनिवर्सरी!
    दुनिया जिसे नींद कहती है;
    जाने वो क्या चीज़ होती है;
    आँखें तो हम भी बंद करते हैं;
    और वो आपसे मिलने की तरक़ीब होती है।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
  • आज के ये शुभ दिन पर;<br />
अपने प्रारंभ की वैवाहिक जीवन की शुभ यात्रा;<br />
आपसी प्यार, समर्पण और सुंदर ताल-मेल से;<br />
आपका जीवन खुशियों से महक उठे;<br />
प्रभु राधे-कृष्ण की तरह सदा आपकी जोड़ी बनायें रखें।<br />
हैप्पी एनिवर्सरी!
    आज के ये शुभ दिन पर;
    अपने प्रारंभ की वैवाहिक जीवन की शुभ यात्रा;
    आपसी प्यार, समर्पण और सुंदर ताल-मेल से;
    आपका जीवन खुशियों से महक उठे;
    प्रभु राधे-कृष्ण की तरह सदा आपकी जोड़ी बनायें रखें।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
  • तू  दूर है मुझसे पास भी है;<br/>
तेरी कमी का कहीं एहसास भी है;<br/>
दोस्त लाखों है इस जहाँ में मेरे;<br/>
पर तू प्यारा भी है ख़ास भी है।<br/>
हैप्पी एनिवर्सरी!
    तू दूर है मुझसे पास भी है;
    तेरी कमी का कहीं एहसास भी है;
    दोस्त लाखों है इस जहाँ में मेरे;
    पर तू प्यारा भी है ख़ास भी है।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
  • किसी का महबूब होना तोहफा है;<br/>
प्यार करने वाले से प्यार करना फ़र्ज़ है;<br/>
लेकिन जिसको आप प्यार करते हो;<br/>
उसका महबूब होना जिंदगी है।<br/>
हैप्पी एनिवर्सरी!
    किसी का महबूब होना तोहफा है;
    प्यार करने वाले से प्यार करना फ़र्ज़ है;
    लेकिन जिसको आप प्यार करते हो;
    उसका महबूब होना जिंदगी है।
    हैप्पी एनिवर्सरी!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT