• दांतों को बराबर घिस डालने का;<br />
मोती के माफ़िक चमका डालने का;<br />
हाथ में एक कप चाय लेकर;<br />
सभी दोस्त लोगों को बोल डालने का;<br />
`सुबह हो गई मामू।`<br />
गुड मॉर्निंग!
    दांतों को बराबर घिस डालने का;
    मोती के माफ़िक चमका डालने का;
    हाथ में एक कप चाय लेकर;
    सभी दोस्त लोगों को बोल डालने का;
    "सुबह हो गई मामू।"
    गुड मॉर्निंग!
  • हर सपने को अपनी साँसों में रखो;<br />
हर मंजिल को अपनी बाहों में रखो;<br />
हर जीत आपकी है;<br />
बस अपने लक्ष्य को अपनी निगाहों में रखो।<br />
सुप्रभात!
    हर सपने को अपनी साँसों में रखो;
    हर मंजिल को अपनी बाहों में रखो;
    हर जीत आपकी है;
    बस अपने लक्ष्य को अपनी निगाहों में रखो।
    सुप्रभात!
  • जिंदगी कितनी खूबसूरत है ये देखने के लिए हमें ज्यादा दूर जाने की जरुरत नहीं है; <br />
जहाँ हम अपनी आँखें खोल लें, वहीं हम इसे देख सकते हैं।<br />
गुड मॉर्निंग!
    जिंदगी कितनी खूबसूरत है ये देखने के लिए हमें ज्यादा दूर जाने की जरुरत नहीं है;
    जहाँ हम अपनी आँखें खोल लें, वहीं हम इसे देख सकते हैं।
    गुड मॉर्निंग!
  • ख़ुशी एक ऐसा चन्दन है; <br />
जिसे दूसरे के मस्तक पर लगाने से हमारी; <br />
अंगुलियाँ भी अपने आप ही सुगंधित हो जाती हैं।<br />
सुप्रभात!
    ख़ुशी एक ऐसा चन्दन है;
    जिसे दूसरे के मस्तक पर लगाने से हमारी;
    अंगुलियाँ भी अपने आप ही सुगंधित हो जाती हैं।
    सुप्रभात!
  • सुबह का हर पल जिंदगी दे आपको;
    दिन का हर लम्हा ख़ुशी दे आपको;
    जहाँ से गम की हवा छूकर भी न गुजरे;
    खुदा वो जन्नत सी जमीं दे आपको।
    गुड मॉर्निंग!
  • आज के लिए सुनहरे शब्द:<br />
जिंदगी में अच्छे लोगों की तलाश ना करो;<br />
खुद अच्छे बन जाओ;<br />
शायद आपसे मिलकर किसी की तलाश पूरी हो जाए।<br />
सुप्रभात!
    आज के लिए सुनहरे शब्द:
    जिंदगी में अच्छे लोगों की तलाश ना करो;
    खुद अच्छे बन जाओ;
    शायद आपसे मिलकर किसी की तलाश पूरी हो जाए।
    सुप्रभात!
  • सुबह जल्दी उठकर;<br />
नहा कर साफ़ कपड़े पहनकर;<br />
भगवान के सामने बैठकर;<br />
आँखें बंद करके सच्चे मन से पूछना;<br />
भगवान जब तू अकल बांट रहा था;<br />
उस वक्त मैं कहाँ था?<br />
गुड मॉर्निंग!
    सुबह जल्दी उठकर;
    नहा कर साफ़ कपड़े पहनकर;
    भगवान के सामने बैठकर;
    आँखें बंद करके सच्चे मन से पूछना;
    भगवान जब तू अकल बांट रहा था;
    उस वक्त मैं कहाँ था?
    गुड मॉर्निंग!
  • गुलशन में भंवरों का फेरा हो गया;<br />
पूरब में सूरज का डेरा हो गया;<br />
मुस्कान के साथ आँखें खोल प्यारे;<br />
एक बार फिर से सवेरा हो गया।<br />
गुड मॉर्निंग!
    गुलशन में भंवरों का फेरा हो गया;
    पूरब में सूरज का डेरा हो गया;
    मुस्कान के साथ आँखें खोल प्यारे;
    एक बार फिर से सवेरा हो गया।
    गुड मॉर्निंग!
  • ताज़ी हवा में फूलों की महक हो;<br />
पहली किरण में चिड़ियों की चहक हो;<br />
जब भी खोलो तुम अपनी पलकें;<br />
उन पलकों में बस खुशियों की झलक हो।<br />
सुप्रभात!
    ताज़ी हवा में फूलों की महक हो;
    पहली किरण में चिड़ियों की चहक हो;
    जब भी खोलो तुम अपनी पलकें;
    उन पलकों में बस खुशियों की झलक हो।
    सुप्रभात!
  • सूरज के बिना सुबह नहीं होती;<br />
चाँद के बिना रात नहीं होती;<br />
बादल के बिना बरसात नहीं होती;<br />
आपकी याद के बिना दिन की शुरुआत नहीं होती।<br />
सुप्रभात!
    सूरज के बिना सुबह नहीं होती;
    चाँद के बिना रात नहीं होती;
    बादल के बिना बरसात नहीं होती;
    आपकी याद के बिना दिन की शुरुआत नहीं होती।
    सुप्रभात!