• अगर कोई लड़का परीक्षा में फेल हो जाये तो माँ तीन शब्द कहती है, "और जा घूमने"।
    गर्लफ्रेंड भी तीन शब्द कहती है, "शर्म नहीं आती"।
    और दोस्त भी तीन शब्द ही कहते हैं लेकिन दिल जीत लेते हैं,
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    "अबे तू भी"।
  • अगर आप स्कूल की मीठी यादों में खोये हैं;
    कॉलेज की हसीन यादों को संजोये हैं;
    क्लास में दोस्तों के साथ की मस्ती को यादों में परोये हो;
    तो...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    मार्क-शीट निकाल कर देखो, सारा नशा उतर जायेगा।
  • एक विद्यार्थी की दर्द भरी शायरी:<br/>
स्टूडेंट्स के दर्द को यह स्कूल वाले क्या जाने;<br/>
क्लास के रिवाज़ों से सब माँ-बाप हैं अनजाने;<br/>
होती है कितनी तकलीफ एक पेपर लिखने में;<br/>
ये दर्द वो पेपर चेक करने वाला क्या जाने।
    एक विद्यार्थी की दर्द भरी शायरी:
    स्टूडेंट्स के दर्द को यह स्कूल वाले क्या जाने;
    क्लास के रिवाज़ों से सब माँ-बाप हैं अनजाने;
    होती है कितनी तकलीफ एक पेपर लिखने में;
    ये दर्द वो पेपर चेक करने वाला क्या जाने।
  • रात को किताब मेरी मुझे देखती रही;
    नींद मुझे अपनी तरफ घसीटती रही;
    नींद का झोंका मेरा मन मोह गया;
    और एक रात फिर ये GENIUS बिना पढ़े सो गया।
  • भगवान का दिया हुआ सब कुछ है,
    किताबें हैं, नोट्स हैं, समय है,
    और हौंसला तो इतना कि जब चाहूँ पढ़ कर टॉप कर लूँ, मगर...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    ये साला मूड ही नहीं बन रहा।
  • लिखो तो EXAM में कुछ ऐसा लिखो;<br/>
कि PEN भी रोने को मज़बूर हो जाये;<br/>
हर ANSWER में भर दो दर्द इतना;<br/>
कि चेक करने वाला भी DISPRIN खा कर सो जाये।
    लिखो तो EXAM में कुछ ऐसा लिखो;
    कि PEN भी रोने को मज़बूर हो जाये;
    हर ANSWER में भर दो दर्द इतना;
    कि चेक करने वाला भी DISPRIN खा कर सो जाये।
  • अगर प्यार साथ हो तो तन्हाई नहीं होती;
    सच्चे प्यार में कभी बेवफाई नहीं होती;
    पर अगर एक बार हो जाये प्यार;
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    फिर कितनी भी रख लो टयूशन फिर पढाई नहीं होती।
  • परीक्षा के बाद बच्चे और ऑपरेशन के बाद डॉक्टर एक ही चीज़ कहते हैं,
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    "कुछ कह नहीं सकते, बस दुआ करें"।
  • अगर हम एक बार जीते हैं;
    एक ही बार मरते हैं;
    प्यार भी एक बार करते हैं;
    शादी भी एक बार करते हैं'
    तो फिर ये...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    एग्जाम बार-बार क्यों होते हैं।
  • काश कोई एग्जाम रिजल्ट का इंश्योरेंस करवा देते;
    तो हर एग्जाम से पहले प्रीमियम भरवा देते;
    अगर पास होते तो ठीक;
    वरना इंश्योरेंस का भी क्लेम करवा लेते।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT