• सोचिये की भौतिकी (Physics) आसान कैसे हो सकती थी;
    अगर;
    अगर ;
    अगर;
    सेब की जगह पेड़ गिरा होता और न्यूटन वहीँ निपट गया होता।
  • अगर एक अकेला टीचर सारे विषय (subject) नहीं पढ़ा सकता तो;
    ऐसी उम्मीद क्यों करते हैं कि एक विद्यार्थी सारे विषय (subject) पढ़े।
    "जागो बच्चों जागो"
  • बहुत दर्द होता है जब अध्यापिका बोलती है कि तुम्हारा और तुम्हारे आगे वाले का जवाब एक है।<br />
तब दिल से आवाज आती है, `तो साला सवाल भी तो एक ही था`।
    बहुत दर्द होता है जब अध्यापिका बोलती है कि तुम्हारा और तुम्हारे आगे वाले का जवाब एक है।
    तब दिल से आवाज आती है, "तो साला सवाल भी तो एक ही था"।
  • निगाहें आज भी उस शख्स को शिद्दत से तलाश करती हैं;
    जिसने कहा था, "बस दसवी कर लो, आगे पढ़ाई आसान है"।
  • आप सभी को यह सूचित किया जाता है कि घर में रखे सारे जूते, चप्पल, बेल्ट, झाड़ू और बेलन को छुपा दें।
    क्योंकि
    .
    . .
    . . .
    रिजल्ट आने वाला है।
  • निकले जो दुनिया की भीड़ में, तो ग़ालिब यह जाना है;<br />
हर वो शख्स उदास है जिसके बच्चे को सोमवार से स्कूल जाना है।
    निकले जो दुनिया की भीड़ में, तो ग़ालिब यह जाना है;
    हर वो शख्स उदास है जिसके बच्चे को सोमवार से स्कूल जाना है।
  • एग्जाम के पावन मौके पर अर्ज़ है:<br/ >
पढ़ना लिखना त्याग दे मित्रा;<br/ >
नकल से रख आस;<br/ >
ओढ़ रजाई सो जा बेटा;<br/ >
रब करेगा पास।<br/ >
पर्ची वाले बाबा की जय!
    एग्जाम के पावन मौके पर अर्ज़ है:
    पढ़ना लिखना त्याग दे मित्रा;
    नकल से रख आस;
    ओढ़ रजाई सो जा बेटा;
    रब करेगा पास।
    पर्ची वाले बाबा की जय!
  • ना वक्त इतना हैं कि सिलेबस पूरा हो;
    ना चिराग का जिन है जो परीक्षा सफल कराये;
    ना जाने कौन सा दर्द दिया है इस पढ़ाई ने;
    ना रोया जाय और ना सोया जाए।
  • पप्पू आईने के सामने पढ़ाई करना पसंद करता है क्योंकि:
    1. दोहराने का समय बचता है।
    2. संयुक्त पढ़ाई होती है।
    3. एक दूसरे के संदेह साफ़ हो जाते हैं।
    4. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि प्रतियोगिता का महौल बना रहता है।
  • हम जीते एक बार हैं;<br />
और मरते एक बार हैं;<br />
प्यार भी एक बार करते हैं;<br />
और शादी भी एक बार करते हैं;<br />
तो फिर ये एग्जाम बार बार क्यों आते हैं।<br />
.<br />
. .<br />
`जागो बच्चों जागो।`
    हम जीते एक बार हैं;
    और मरते एक बार हैं;
    प्यार भी एक बार करते हैं;
    और शादी भी एक बार करते हैं;
    तो फिर ये एग्जाम बार बार क्यों आते हैं।
    .
    . .
    "जागो बच्चों जागो।"