• एक ही महीना है...<br/>
जब पढ़ते थे तब भी मार्च डराता था,<br/>
अब कमाते हैं तब भी मार्च ही डराता है।
    एक ही महीना है...
    जब पढ़ते थे तब भी मार्च डराता था,
    अब कमाते हैं तब भी मार्च ही डराता है।
  • आस्ट्रेलिया वालो को पता नहीं है कि हम इंडिया वाले टारगेट कितना भी हो मार्च में पूरा कर ही देते हैं।
  • जब पढ़ते थे तब भी मार्च डराता था,<br/>
अब कमाते हैं, तब भी डराता है।
    जब पढ़ते थे तब भी मार्च डराता था,
    अब कमाते हैं, तब भी डराता है।
  • March Ending में, जीवन की बैलेंस शीट जांचने की इच्छा हुई तो पाया कि प्रेम, स्नेह, आत्मीयता, भाईचारा, कर्तव्यनिष्ठा के खाते ही गायब हैं।
    'मन' के मुनीम से पूछा तो वो बोला, "साहब जी, वर्षो से इनके साथ कोई लेन देन हुआ ही नहीं।"
  • नारद जी: प्रभु मार्च में बारिश?<br/>
इंदर देव: साल का अंतिम महीना है, टारगेट पूरे करने हैं।
    नारद जी: प्रभु मार्च में बारिश?
    इंदर देव: साल का अंतिम महीना है, टारगेट पूरे करने हैं।
  • खबर: पाकिस्तान में बम धमाका<br />
नवाज शरीफ: ये क्या हो रहा है?<br />
आतंकवादी: मार्च खत्म हो रहा है। `Target` पूरे कर रहे हैं।
    खबर: पाकिस्तान में बम धमाका
    नवाज शरीफ: ये क्या हो रहा है?
    आतंकवादी: मार्च खत्म हो रहा है। "Target" पूरे कर रहे हैं।
  • मरीज़ व्यापारी: डॉक्टर साहिब, मेरी तबीयत बहुत ख़राब रहती है। खट्टे डकार आते हैं।
    कुछ खाने पीने का भी दिल नहीं करता। स्वभाव भी बहुत चीड़-चिड़ा सा हो गया है। कोई अच्छी सी दवा दे दो।
    डॉक्टर: आप को किसी दवा की जरूरत नहीं है।
    मरीज़ व्यापारी: वो क्यों?
    डॉक्टर: यह बीमारी सभी व्यापारिओं को अक्सर ३१ मार्च के नज़दीक लगती है। जल्दी से सारा टैक्स भरवा दो, यह सभी लक्षण खुद ही चले जाएंगे!
    शुभ 31 मार्च।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT