• जो सर्दियों में नहीं नहाते हैं कृपया उनकी इज़्ज़त करें!<br/>
क्योंकि ये वही लोग हैं जो आने वाली पीढ़ियों के लिए पानी बचाते हैं!
    जो सर्दियों में नहीं नहाते हैं कृपया उनकी इज़्ज़त करें!
    क्योंकि ये वही लोग हैं जो आने वाली पीढ़ियों के लिए पानी बचाते हैं!
  • एक आदमी किसी ज्ञानी को मिला!<br/>
आदमी: बाबा जी, पत्नी को फारसी में क्या कहते हैं?<br/>
बाबा जी ने एक ठंड़ी आह भरी और फरमाया, `बेटा, पत्नी को फारसी में क्या किसी भी जुबान में कुछ भी नहीं कह सकते!`
    एक आदमी किसी ज्ञानी को मिला!
    आदमी: बाबा जी, पत्नी को फारसी में क्या कहते हैं?
    बाबा जी ने एक ठंड़ी आह भरी और फरमाया, "बेटा, पत्नी को फारसी में क्या किसी भी जुबान में कुछ भी नहीं कह सकते!"
  • टीचर: भैंस पूंछ क्यों हिलती है?<br/>
पप्पू: क्योंकि पूंछ में इतनी ताकत नहीं होती कि भैंस को हिला सके!
    टीचर: भैंस पूंछ क्यों हिलती है?
    पप्पू: क्योंकि पूंछ में इतनी ताकत नहीं होती कि भैंस को हिला सके!
  • आज मेरे घर पे गाजर का हलवा बना है!<br/>
अगर आप लोगों ने भी खाना है तो...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
अपने घर पर भी बनवा लो!
    आज मेरे घर पे गाजर का हलवा बना है!
    अगर आप लोगों ने भी खाना है तो...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    अपने घर पर भी बनवा लो!
  • ज़िन्दगी में 'उन्नीस-बीस' तो होता ही रहता है...<br/>
पर अब से 'बीस उन्नीस (2019)' शुरू हुआ है!
    ज़िन्दगी में 'उन्नीस-बीस' तो होता ही रहता है...
    पर अब से 'बीस उन्नीस (2019)' शुरू हुआ है!
  • संता: पत्नियां कभी अपनी गलती नहीं मानतीं!<br/>
बंता: मेरी तो मान लेती है! कहती है, `तुमसे शादी करके जीवन की सबसे बड़ी गलती है`।
    संता: पत्नियां कभी अपनी गलती नहीं मानतीं!
    बंता: मेरी तो मान लेती है! कहती है, "तुमसे शादी करके जीवन की सबसे बड़ी गलती है"।
  • सैलरी का 100% बीवी को देने से 10% प्यार मिलता है।<br/>
जबकि दूसरे की बीवी को 10% देने से 100% प्यार मिलता है।<br/>
सैलरी आपकी, फैसला आपका!
    सैलरी का 100% बीवी को देने से 10% प्यार मिलता है।
    जबकि दूसरे की बीवी को 10% देने से 100% प्यार मिलता है।
    सैलरी आपकी, फैसला आपका!
  • कभी कभी मुझे लगता है कि पत्नियां `पुरातत्व विभाग` से होती हैं...<br/>
क्योंकि वो गड़े `मुर्दे` उखाड़-उखाड़ के झगड़े करती हैं!
    कभी कभी मुझे लगता है कि पत्नियां "पुरातत्व विभाग" से होती हैं...
    क्योंकि वो गड़े "मुर्दे" उखाड़-उखाड़ के झगड़े करती हैं!
  • पति: मौसम बहुत ठंडा है, चलो `गलतफहमियों को आग लगाते हैं!<br/>
पत्नी: ये लो माचिस और पड़ोसन को मैं बुलाकर लाती हूँ!
    पति: मौसम बहुत ठंडा है, चलो "गलतफहमियों को आग लगाते हैं!
    पत्नी: ये लो माचिस और पड़ोसन को मैं बुलाकर लाती हूँ!
  • कहते हैं कभी किसी की परिस्थिति पर मत हँसो वही परिस्थिति हमारी भी आ सकती है!<br/>
इसलिए मैं रोज़ सिर्फ अम्बानी की परिस्थिति पर हंसता हूँ!
    कहते हैं कभी किसी की परिस्थिति पर मत हँसो वही परिस्थिति हमारी भी आ सकती है!
    इसलिए मैं रोज़ सिर्फ अम्बानी की परिस्थिति पर हंसता हूँ!