• लोगों के दोस्त विदेश जा रहे हैं।<br/>
मेरे ठेके से आगे नहीं बढ़ते।Upload to Facebook
    लोगों के दोस्त विदेश जा रहे हैं।
    मेरे ठेके से आगे नहीं बढ़ते।
  • इंडिया में अभी 2 चीज़ चल रही हैं,<br/>
1. नवरात्री में डांडिया<br/>
2. क्रिकेट में हार्दिक पंड्याUpload to Facebook
    इंडिया में अभी 2 चीज़ चल रही हैं,
    1. नवरात्री में डांडिया
    2. क्रिकेट में हार्दिक पंड्या
  • इस दीवाली अपने माँ-बाप को खुश करें।<br/>
पटाखों की जगह अपने मोबाइल को आग लगाएं।Upload to Facebook
    इस दीवाली अपने माँ-बाप को खुश करें।
    पटाखों की जगह अपने मोबाइल को आग लगाएं।
  • आदमी: बाबा जी, दादा जी की मुक्ति के लिए क्या करूँ?<br/>
बाबा: उनकी अस्थियां और उनके आधार कार्ड की 2 कॉपी।Upload to Facebook
    आदमी: बाबा जी, दादा जी की मुक्ति के लिए क्या करूँ?
    बाबा: उनकी अस्थियां और उनके आधार कार्ड की 2 कॉपी।
  • काफी साल हो गए पर जेठालाल की उम्मीद बबिता से ऐसे जुडी हुई है,<br/>
जैसे कांग्रेसियों की राहुल गाँधी से।Upload to Facebook
    काफी साल हो गए पर जेठालाल की उम्मीद बबिता से ऐसे जुडी हुई है,
    जैसे कांग्रेसियों की राहुल गाँधी से।
  • एक आदमी ने अपनी को टोकते हुए कहा,<br/>
`तुम कितनी फ़िज़ूलखर्ची करती हो।`<br/>
पत्नी: और जो आप करते हो वो?<br/>
आदमी: कौन सी फ़िज़ूलख़र्ची?<br/>
पत्नी: कब से अपनी LIC की किश्तें भर रहे हो, आज तक काम आई?Upload to Facebook
    एक आदमी ने अपनी को टोकते हुए कहा,
    "तुम कितनी फ़िज़ूलखर्ची करती हो।"
    पत्नी: और जो आप करते हो वो?
    आदमी: कौन सी फ़िज़ूलख़र्ची?
    पत्नी: कब से अपनी LIC की किश्तें भर रहे हो, आज तक काम आई?
  • आज का ज्ञान:<br/>
कुछ लड़कियों को इतना भी रेस्पेक्ट नहीं देना चाहिए कि वो समझे आप उसे लाइन मार रहे हो।Upload to Facebook
    आज का ज्ञान:
    कुछ लड़कियों को इतना भी रेस्पेक्ट नहीं देना चाहिए कि वो समझे आप उसे लाइन मार रहे हो।
  • बचपन में माँ डराती थी, `बेटा! बाबा पकड़ कर ले जायेगा।`<br/>
ससुरा बाबा ही पकड़ा गया।<br/>
और कितने अच्छे दिन चाहिए?Upload to Facebook
    बचपन में माँ डराती थी, "बेटा! बाबा पकड़ कर ले जायेगा।"
    ससुरा बाबा ही पकड़ा गया।
    और कितने अच्छे दिन चाहिए?
  • राहुल गाँधी भी कांग्रेस वालों के लिए `ब्लू व्हेल` गेम से कम नहीं है।<br/>Upload to Facebook
    राहुल गाँधी भी कांग्रेस वालों के लिए "ब्लू व्हेल" गेम से कम नहीं है।
  • तारीफ़ करने का नया तरीका:<br/>
ब्लू व्हेल लग रही हो जान देने को दिल कर रहा है।Upload to Facebook
    तारीफ़ करने का नया तरीका:
    ब्लू व्हेल लग रही हो जान देने को दिल कर रहा है।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT