• ऐ चाँद उनको मेरा ये पैग़ाम कहना;<br/>
ख़ुशी का दिन और हँसी की शाम कहना;<br/>
जब देखें बाहर आकर वो तुझे;<br/>
मेरी तरफ से उनको मुबारक़ रमज़ान कहना।
    ऐ चाँद उनको मेरा ये पैग़ाम कहना;
    ख़ुशी का दिन और हँसी की शाम कहना;
    जब देखें बाहर आकर वो तुझे;
    मेरी तरफ से उनको मुबारक़ रमज़ान कहना।
  • गुल ने गुलशन से गुलफ़ाम भेजा है;<br/>
सितारों ने आसमान से सलाम भेजा है;<br/>
मुबारक़ हो आपको यह रमदान;<br/>
ये पैगाम हमने सिर्फ आपके नाम भेजा है।<br/>
रमज़ान मुबारक़!
    गुल ने गुलशन से गुलफ़ाम भेजा है;
    सितारों ने आसमान से सलाम भेजा है;
    मुबारक़ हो आपको यह रमदान;
    ये पैगाम हमने सिर्फ आपके नाम भेजा है।
    रमज़ान मुबारक़!
  • ज़िंदगी का हर पल खुशियों से कम न हो;<br/>
आपका हर दिन किसी मुबारक दिन से कम न हो;<br/>
ये दिन आपको हमेशा नसीब हो;<br/>
जिसमे कोई दुःख और कोई ग़म न हो।<br/>
रमजान मुबारक!
    ज़िंदगी का हर पल खुशियों से कम न हो;
    आपका हर दिन किसी मुबारक दिन से कम न हो;
    ये दिन आपको हमेशा नसीब हो;
    जिसमे कोई दुःख और कोई ग़म न हो।
    रमजान मुबारक!
  • आसमान पे नया चाँद है आया;<br/>
सारा आलम ख़ुशी से जगमगाया;<br/>
हो रही है सहर-ए-इफ्तार की तैयारी;<br/>
सज रही है दुआओं की सवारी;<br/>
पूरे हों आपके दिल के सब अरमान;<br/>
मुबारक हो आपको प्यारा रमजान।
    आसमान पे नया चाँद है आया;
    सारा आलम ख़ुशी से जगमगाया;
    हो रही है सहर-ए-इफ्तार की तैयारी;
    सज रही है दुआओं की सवारी;
    पूरे हों आपके दिल के सब अरमान;
    मुबारक हो आपको प्यारा रमजान।
  • खुदा का शुक्र है रमजान आया;<br/>
मसीहा बनके है मेहमान आया;<br/>
मेरी आँखें बिछी हैं उसकी राह मे;<br/>
बड़े रुतबे का है सुल्तान आया।<br/>

रमजान मुबारक!
    खुदा का शुक्र है रमजान आया;
    मसीहा बनके है मेहमान आया;
    मेरी आँखें बिछी हैं उसकी राह मे;
    बड़े रुतबे का है सुल्तान आया।
    रमजान मुबारक!
  • रमदान का चाँद देखा, रोज़े की दुआ माँगी;<br/>
रौशन सितारा देखा, आप की खैरियत की दुआ माँगी।<br/>
रमदान मुबारक!
    रमदान का चाँद देखा, रोज़े की दुआ माँगी;
    रौशन सितारा देखा, आप की खैरियत की दुआ माँगी।
    रमदान मुबारक!
  • राम लिखा, रेहमान लिखा;<br/>
गीता और कुरान लिखा;<br/>
जब बात हुई पूरी दुनियां को एक लफ्ज़ में लिखने की;<br/>
तब मैंने 'माँ' का नाम लिखा।<br/>
मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएं!
    राम लिखा, रेहमान लिखा;
    गीता और कुरान लिखा;
    जब बात हुई पूरी दुनियां को एक लफ्ज़ में लिखने की;
    तब मैंने 'माँ' का नाम लिखा।
    मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएं!
  • माँ है मोहब्बत का नाम, माँ को हज़ारों सलाम;<br/>
कर दे फ़िदा ज़िंदगी, आए जो बच्चों के काम।<br/>
मदर डे मुबारक हो!
    माँ है मोहब्बत का नाम, माँ को हज़ारों सलाम;
    कर दे फ़िदा ज़िंदगी, आए जो बच्चों के काम।
    मदर डे मुबारक हो!
  • नींद अपनी भुलाकर सुलाया हमको;
    आंसू अपने गिराकर हंसाया हमको;
    दर्द कभी ना देना उस खुदा की तस्वीर को;
    खुदा भी कहता है माँ जिसको।
    मदर डे की शुभकामनाएं!
  • मंजिल दूर और सफ़र बहुत है;<br/>
छोटी सी जिंदगी की फिकर बहुत है;<br/>
मार डालती ये दुनिया कब की हमेँ;<br/>
लेकिन 'माँ' की दुआओं में असर बहुत है।<br/>
मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएं!
    मंजिल दूर और सफ़र बहुत है;
    छोटी सी जिंदगी की फिकर बहुत है;
    मार डालती ये दुनिया कब की हमेँ;
    लेकिन 'माँ' की दुआओं में असर बहुत है।
    मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएं!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT