• कच्चे धागों से बनी पक्की डोर है राखी;<br/>
प्यार और मीठी शरारतों की होड़ है राखी;<br/>
भाई की लंबी उम्र की दुआ है राखी;<br/>
बहन के प्यार का पवित्र धुँआ है राखी।<br/>
राखी की शुभ कामनायें!
    कच्चे धागों से बनी पक्की डोर है राखी;
    प्यार और मीठी शरारतों की होड़ है राखी;
    भाई की लंबी उम्र की दुआ है राखी;
    बहन के प्यार का पवित्र धुँआ है राखी।
    राखी की शुभ कामनायें!
  • मेहंदी से सजे हाथ, नव-विवाहितों की खनकती चूड़ियों और घेवर की मिठास - इन सब के बीच `हरियाली तीज` की अनेकानेक शुभकामनाएं।
    मेहंदी से सजे हाथ, नव-विवाहितों की खनकती चूड़ियों और घेवर की मिठास - इन सब के बीच "हरियाली तीज" की अनेकानेक शुभकामनाएं।
  • आग़ाज़ ईद है, अंजाम ईद है;<br/>
सच्चाई पे चलो तो हर ग़म ईद है;<br/>
जिसने भी रखे रोज़े;<br/>
उन सब के लिए अल्लाह की तरफ से इनाम ईद है।<br/>
ईद मुबारक़!
    आग़ाज़ ईद है, अंजाम ईद है;
    सच्चाई पे चलो तो हर ग़म ईद है;
    जिसने भी रखे रोज़े;
    उन सब के लिए अल्लाह की तरफ से इनाम ईद है।
    ईद मुबारक़!
  • चुपके से चाँद की रौशनी छू जाये आपको;<br/>
धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको;<br/>
दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से;<br/>
हम दुआ करते हैं वो मिल जाये आपको।<br/>
ईद मुबारक़!
    चुपके से चाँद की रौशनी छू जाये आपको;
    धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको;
    दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से;
    हम दुआ करते हैं वो मिल जाये आपको।
    ईद मुबारक़!
  • याद है हमें हमारा वो बचपन;<br/>
वो लड़ना, वो झगड़ना और वो मना लेना;<br/>
यही होता है भाई-बहन का प्यार;<br/>
इसी प्यार को बढ़ाने आ रहा है राखी का त्यौहार।<br/>
राखी की शुभकामनायें!
    याद है हमें हमारा वो बचपन;
    वो लड़ना, वो झगड़ना और वो मना लेना;
    यही होता है भाई-बहन का प्यार;
    इसी प्यार को बढ़ाने आ रहा है राखी का त्यौहार।
    राखी की शुभकामनायें!
  • सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल;<br/>
दुनिया के सारे गम तुम जाओ भूल;<br/>
चारों तरफ फ़ैलाओ खुशियों के गीत;<br/>
इसी उम्मीद के साथ तुम्हें मुबारक हो ईद।<br/>
ईद मुबारक
    सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल;
    दुनिया के सारे गम तुम जाओ भूल;
    चारों तरफ फ़ैलाओ खुशियों के गीत;
    इसी उम्मीद के साथ तुम्हें मुबारक हो ईद।
    ईद मुबारक
  • ऐ चाँद उनको मेरा पैग़ाम कहना;<br/>
ख़ुशी का दिन हँसी की शाम कहना;<br/>
जब वो देखें तुम्हें आकर बाहर;<br/>
उनको मेरी तरफ से ईद मुबारक़ कहना।
    ऐ चाँद उनको मेरा पैग़ाम कहना;
    ख़ुशी का दिन हँसी की शाम कहना;
    जब वो देखें तुम्हें आकर बाहर;
    उनको मेरी तरफ से ईद मुबारक़ कहना।
  • ईद लेकर आती है ढेर सारी खुशियां;<br/>
ईद मिटा देती है इंसान में दूरियां;<br/>
ईद है ख़ुदा का एक नायाब तबारक;<br/>
और हम भी कहते हैं आपको ईद मुबारक।
    ईद लेकर आती है ढेर सारी खुशियां;
    ईद मिटा देती है इंसान में दूरियां;
    ईद है ख़ुदा का एक नायाब तबारक;
    और हम भी कहते हैं आपको ईद मुबारक।
  • सूरज की किरणें, तारों की बहार;<br/>
चाँद की चांदनी, अपनों का प्यार;<br/>
आपका हर पल हो खुशहाल;<br/>
उसी तरह मुबारक हो आपको ईद का तयोहार।<br/>
ईद मुबारक!
    सूरज की किरणें, तारों की बहार;
    चाँद की चांदनी, अपनों का प्यार;
    आपका हर पल हो खुशहाल;
    उसी तरह मुबारक हो आपको ईद का तयोहार।
    ईद मुबारक!
  • होंठों पे न कभी कोई शिकवा चाहिए;<br/>
बस निगाह-ए-करम और दुआ चाहिए;<br/>
चाँद तारों की तमन्ना नहीं मुझको;<br/>
आप रहें सलामत खुदा से यही खैरात चाहिए।<br/>
रमजान मुबारक
    होंठों पे न कभी कोई शिकवा चाहिए;
    बस निगाह-ए-करम और दुआ चाहिए;
    चाँद तारों की तमन्ना नहीं मुझको;
    आप रहें सलामत खुदा से यही खैरात चाहिए।
    रमजान मुबारक