• एक पति का बयान:<br/>
ना मैं चुनाव लड़ रहा हूँ, ना मेरी घरवाली।<br/>
हम दोनों आपस में ही लड़ के खुश हैं।
    एक पति का बयान:
    ना मैं चुनाव लड़ रहा हूँ, ना मेरी घरवाली।
    हम दोनों आपस में ही लड़ के खुश हैं।
  • क्यों पैसे फूंकते ही सिगरेट, बीड़ी, सिगार में...<br/>
कुछ दिन तो गुज़ारो दिल्ली-एनसीआर में।
    क्यों पैसे फूंकते ही सिगरेट, बीड़ी, सिगार में...
    कुछ दिन तो गुज़ारो दिल्ली-एनसीआर में।
  • स्कूल बंद, कंस्ट्रक्शन बंद, जेनरेटर बंद।<br/>
दिल्ली में प्रदूषण घटाने के लिए अब बस मूली के परांठे बंद करना बाकी हैं।
    स्कूल बंद, कंस्ट्रक्शन बंद, जेनरेटर बंद।
    दिल्ली में प्रदूषण घटाने के लिए अब बस मूली के परांठे बंद करना बाकी हैं।
  • मुस्कुराइये आप लखनऊ में हैं।<br/>
खाँसिये आप दिल्ली में हैं।
    मुस्कुराइये आप लखनऊ में हैं।
    खाँसिये आप दिल्ली में हैं।
  • दिल्ली में धुंध ऐसी पड़ रही है जैसे Undertaker आने वाला हो।
    दिल्ली में धुंध ऐसी पड़ रही है जैसे Undertaker आने वाला हो।
  • मुँह से धुआं निकलने वाली ठण्ड, पता नहीं कब पड़ेगी।
    मुँह से धुआं निकलने वाली ठण्ड, पता नहीं कब पड़ेगी।
  • जिनका कोई नहीं होता है,<br/>
उनका एक मात्र मोबाइल ही सब कुछ होता है।
    जिनका कोई नहीं होता है,
    उनका एक मात्र मोबाइल ही सब कुछ होता है।
  • आदमी: बाबा घर में शांति कैसे लाऊँ?<br/>
बाबा: रात को पीछे के दरवाज़े से।
    आदमी: बाबा घर में शांति कैसे लाऊँ?
    बाबा: रात को पीछे के दरवाज़े से।
  • अच्छी खासी गपशप होती थी,<br/>
फिर एक दिन उसने करती की जगह करता लिख दिया!
    अच्छी खासी गपशप होती थी,
    फिर एक दिन उसने करती की जगह करता लिख दिया!
  • हाँ हवा भी बिकती है,<br/>
Lays के पैकेट में।
    हाँ हवा भी बिकती है,
    Lays के पैकेट में।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT