SantaBanta SMS # 19334

Page: 1
मैं तो चिराग हूँ, तेरे आशियानों का कभी न कभी तो बुझ जाऊंगा; 
आज तुझे शिकायत है, मेरे उजाले से, कल 'अँधेरे' में बहुत याद आऊंगा!
मैं तो चिराग हूँ, तेरे आशियानों का कभी न कभी तो बुझ जाऊंगा;
आज तुझे शिकायत है, मेरे उजाले से, कल 'अँधेरे' में बहुत याद आऊंगा!

Quotes

याद रखिये सबसे बड़ा अपराध अन्याय सहना और गलत के साथ समझौता करना है।

Trivia

The word 'Baklava' is derived from an old Mongolian word, Baγla: to pile up or layer.

Graffiti

You can't have everything; where would you put it?