SantaBanta SMS # 19334

Page: 1
मैं तो चिराग हूँ, तेरे आशियानों का कभी न कभी तो बुझ जाऊंगा; 
आज तुझे शिकायत है, मेरे उजाले से, कल 'अँधेरे' में बहुत याद आऊंगा!
मैं तो चिराग हूँ, तेरे आशियानों का कभी न कभी तो बुझ जाऊंगा;
आज तुझे शिकायत है, मेरे उजाले से, कल 'अँधेरे' में बहुत याद आऊंगा!

Quotes

आशावाद इस बात को स्वीकार नहीं करता कि रास्ता बिना किसी विकल्प के ख़त्म हो गया है।

Trivia

25,000,000 of your cells died while you were reading this sentence.

Graffiti

Life is really harmful, people die of it.