•  

    एक नवविवाहित डाक्टर अपनी पत्नी के साथ बगीचे में सैर कर रहा होता है कि तभी अचानक सामने से आती हुई एक सुंदर युवती ने मुस्कुराकर डॉक्टर का अभिवादन किया, जो देख कर डॉक्टर की पत्नी को ईर्ष्या हुई, तो उसने घर जा कर डॉक्टर साहब से पूछा, "वो युवती कौन थी और आप उसे कैसे जानते हैं?"

    डॉक्टर: अरे वह तो बस वैसे ही।

    पत्नी: वैसे ही नहीं ज़रा आप बताएँगे कि आप उसे कैसे जानते हैं?

    डॉक्टर साहब ने बड़ी लापरवाही से जवाब दिया, "अरे वैसे ही पेशे के सिलसिले में..."

    पति: किसका पेशा आपका या उसका?
  • ये कैसी दोस्ती? गलती मेरी ही थी, वजह भी बड़ी वाजिब थी। 
    बात ये हुई कि उनकी पत्नी यानी हमारी प्रिय भाभी जी दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। एक कोई हड्डी टूट गयी थी।
    एक प्रसिद्ध अस्थिरोग (हड्डी रोग) विशेषज्ञ से संपर्क व परामर्श हुआ।...
  • सेर पे सवा सेर! एक बै रब्बू नै 500 रुपय्ये की जरूरत पड़-गी - सोची अक लाला जी पै ले ल्यूं ।

    रब्बू नै फोन खटकाया । लाला जी के फोन उठाते ही रब्बू बोल्या...
  • अलग-अलग बीमारियों में दारू कैसे पीएँ? * खाँसी हो तो मुलैठी के पानी के साथ
    * बुखार हो तो शहद मिलाकर
    * गर्मी हो तो सोडा के साथ
    * ठंड लगे तो छुवारे के साथ...
  • कहानी से सबक! स्कूल में टीचर ने चौथी क्लास के बच्चों को होमवर्क दिया।
    "कोई स्टोरी सोच के आना और फिर क्लास को बताना कि उससे हमें क्या सबक मिलता है?"
    अगले दिन एक बच्चे ने क्लास में स्टोरी सुनाई:...
  • ये कैसा कानून एक बार अदालत में किसी मुक़दमे को लेकर दो वकीलों के बीच जिरह हो रही होती जो कि बाद में लड़ाई में तब्दील हो जाती है और बात गाली गलौच तक पहुँच जाती है...