• नाराज़ पत्नी का प्यार!

    एक बार एक पति अपनी पत्नी के पास गया और बड़े ही प्यार से उसका हाथ अपने हाथों में थाम कर बोला;

    पति: जानू तुम मुझे कितना प्यार करती हो?

    पत्नी जो की पहले से ही किसी बात पर नाराज़ बैठी थी चिड़ते हुए बोली;

    पत्नी: बहुत सारा!

    पत्नी की बात सुन पति फिर बोला;

    पति: अच्छा तो जानू कुछ ऐसी बात कहो जो सुनने के बाद मेरे पाँव ज़मीन पर ना लगें!

    पत्नी: जा के पंखे से फांसी लगा लो!
  • नाराज़ पत्नी का प्यार!

    एक बार एक पति अपनी पत्नी के पास गया और बड़े ही प्यार से उसका हाथ अपने हाथों में थाम कर बोला;

    पति: जानू तुम मुझे कितना प्यार करती हो?

    पत्नी जो की पहले से ही किसी बात पर नाराज़ बैठी थी चिड़ते हुए बोली;

    पत्नी: बहुत सारा!

    पत्नी की बात सुन पति फिर बोला;

    पति: अच्छा तो जानू कुछ ऐसी बात कहो जो सुनने के बाद मेरे पाँव ज़मीन पर ना लगें!

    पत्नी: जा के पंखे से फांसी लगा लो!
  • पति का बदला!

    एक बार एक आदमी मर रहा होता है तो उसके परिवार के सारे सदस्य उसके आस पास खड़े होते हैं, अपनी अंतिम सासें गिनते हुए वह आदमी अपनी पत्नी से कहता है;

    आदमी: मेरे मरने के बाद तुम पड़ोस में रहने वाले रामलाल से शादी कर लेना!

    आदमी की बात सुन कर पत्नी जवाब देती है!

    पत्नी: नहीं मैं तुम्हारे बाद किसी और से शादी नहीं कर सकती!

    आदमी: पर मैं तुम्हे कह रहा हूँ ना तुम रामलाल से शादी कर लेना!

    पत्नी: आप ऐसा क्यों कह रहे है!

    आदमी: क्योंकि उस ने एक बार मुझे बेवकूफ बना कर एक शर्त जीत ली थी और अब मैं उस से बदला लेना चाहता हूँ!
  • ये भी क्या ज़िन्दगी है!

    बिक्री के बोझ से बीमार एक सेल्समेन से उसकी पत्नी ने कहा, " इस बार जानवरों के डॉक्टर को दिखाओ तो ही ठीक होगे।"

    सेल्समेन: क्यों?

    पत्नी: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो।

    लोमड़ी की तरह इधर उधर से आर्डर बटोरते हो।

    गधे की तरह दिन भर टारगेट पूरे करते हो।

    घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भौंकते हो, शेर की तरह मुझे खाने को पड़ते हो, और फिर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर तुम्हे क्या ख़ाक ठीक कर पायेगा।