• पत्नी: चुकंदर खाया कीजिये, खून साफ़ होता है!</br>
पति: अच्छा अब तुम्हें खून भी हाई क्वालिटी का चाहिए!
    पत्नी: चुकंदर खाया कीजिये, खून साफ़ होता है!
    पति: अच्छा अब तुम्हें खून भी हाई क्वालिटी का चाहिए!
  • आईपीएल था इसलिए जाने दिया,</br>
चुनाव होता तो पूरा करवा के छोड़ते!
    आईपीएल था इसलिए जाने दिया,
    चुनाव होता तो पूरा करवा के छोड़ते!
  • गौतम बुद्ध ने घर छोड़ा तो भगवान बन गए!</br>
मैंने घर छोड़ा तो 2 लट्ठ पड़ गए और चौंक पे मुर्गा भी बन गया!</br>
इसलिए घर पर रहें, सुरक्षित रहें!
    गौतम बुद्ध ने घर छोड़ा तो भगवान बन गए!
    मैंने घर छोड़ा तो 2 लट्ठ पड़ गए और चौंक पे मुर्गा भी बन गया!
    इसलिए घर पर रहें, सुरक्षित रहें!
  • दूरियाँ तो पहले ही आ चुकी थीं लोगों के दिलों में,</br>
एक बीमारी ने आकर इल्ज़ाम अपने सिर ले लिया!
    दूरियाँ तो पहले ही आ चुकी थीं लोगों के दिलों में,
    एक बीमारी ने आकर इल्ज़ाम अपने सिर ले लिया!
  • 4 घंटे में पूरा करना होगा विवाह समारोह!</br>
~ सरकार</br></br>

अब सरकार को ये कौन बताये कि 4 घंटे में तो बस रूठ कर बैठा हुआ फूफ़ा ही मानेगा!
    4 घंटे में पूरा करना होगा विवाह समारोह!
    ~ सरकार

    अब सरकार को ये कौन बताये कि 4 घंटे में तो बस रूठ कर बैठा हुआ फूफ़ा ही मानेगा!
  • तमाम क़ायनात में एक क़ातिल बीमारी की हवा हो गयी;</br>
वक़्त ने कैसा सितम किया कि दूरियाँ दवा हो गयी!
    तमाम क़ायनात में एक क़ातिल बीमारी की हवा हो गयी;
    वक़्त ने कैसा सितम किया कि दूरियाँ दवा हो गयी!
  • आज का ज्ञान:</br>
बहू, नारियल, दामाद और तरबूज़ अंदर से कैसे निकलेंगे कोई नहीं जानता!
    आज का ज्ञान:
    बहू, नारियल, दामाद और तरबूज़ अंदर से कैसे निकलेंगे कोई नहीं जानता!
  • WHO ने पहले कहा था एक मास्क लगाओ, अब कह रहा दो मास्क लगाओ!</br>
अब आगे कहेगा, मुँह पर रजाई बाँध कर निकला करो!
    WHO ने पहले कहा था एक मास्क लगाओ, अब कह रहा दो मास्क लगाओ!
    अब आगे कहेगा, मुँह पर रजाई बाँध कर निकला करो!
  • सोच रहा हूँ लॉकडाउन बढ़ गया तो इस बार छुट्टियाँ मनाने दूसरे कमरे में चला जाऊँगा!
    सोच रहा हूँ लॉकडाउन बढ़ गया तो इस बार छुट्टियाँ मनाने दूसरे कमरे में चला जाऊँगा!
  • 2 साल होने को आये किसी की शादी का कार्ड नहीं आया!</br>
दहीं बड़े-गुलाब जामुन का स्वाद ही भूल गया हूँ!
    2 साल होने को आये किसी की शादी का कार्ड नहीं आया!
    दहीं बड़े-गुलाब जामुन का स्वाद ही भूल गया हूँ!