• शाम भी थी धुआँ धुआँ हुस्न भी था उदास उदास;</br>
दिल को कई कहानियाँ याद सी आ के रह गईं!
    शाम भी थी धुआँ धुआँ हुस्न भी था उदास उदास;
    दिल को कई कहानियाँ याद सी आ के रह गईं!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • बहुत दिनों में मोहब्बत को ये हुआ मालूम;</br>
जो तेरे हिज्र में गुज़री वो रात रात हुई!
    बहुत दिनों में मोहब्बत को ये हुआ मालूम;
    जो तेरे हिज्र में गुज़री वो रात रात हुई!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • अगर बदल न दिया आदमी ने दुनिया को;</br>
तो जान लो कि यहाँ आदमी की ख़ैर नहीं!
    अगर बदल न दिया आदमी ने दुनिया को;
    तो जान लो कि यहाँ आदमी की ख़ैर नहीं!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • कम से कम मौत से ऐसी मुझे उम्मीद नहीं;
ज़िंदगी तूने तो धोखे पे दिया है धोखा!
    कम से कम मौत से ऐसी मुझे उम्मीद नहीं; ज़िंदगी तूने तो धोखे पे दिया है धोखा!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • खो दिया तुम को तो हम पूछते फिरते हैं यही;</br>
जिस की तक़दीर बिगड़ जाए वो करता क्या है!
    खो दिया तुम को तो हम पूछते फिरते हैं यही;
    जिस की तक़दीर बिगड़ जाए वो करता क्या है!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • न कोई वादा न कोई यकीन न कोई उम्मीद;<br/>
मगर हमें तो तेरा इंतज़ार करना था!
    न कोई वादा न कोई यकीन न कोई उम्मीद;
    मगर हमें तो तेरा इंतज़ार करना था!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • रात भी नींद भी कहानी भी;<br/>
हाए क्या चीज़ है जवानी भी!
    रात भी नींद भी कहानी भी;
    हाए क्या चीज़ है जवानी भी!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • एक मुद्दत से तेरी याद भी आयी न हमें;<br/>
और हम भूल गए हों तुझे ऐसा भी नहीं!
    एक मुद्दत से तेरी याद भी आयी न हमें;
    और हम भूल गए हों तुझे ऐसा भी नहीं!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • मैं हूँ दिल है तन्हाई है;<br/>

तुम भी होते अच्छा होता!
    मैं हूँ दिल है तन्हाई है;
    तुम भी होते अच्छा होता!
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • मौत का भी इलाज हो शायद;<br/>
ज़िंदगी का कोई इलाज नहीं!
    मौत का भी इलाज हो शायद;
    ज़िंदगी का कोई इलाज नहीं!
    ~ Firaq Gorakhpuri