• कभी समझाएं नहीं - आपके मित्रों को इसकी ज़रुरत नहीं है और वैसे भी आपके शत्रु आप पर यकीन नहीं करेंगे।
    कभी समझाएं नहीं - आपके मित्रों को इसकी ज़रुरत नहीं है और वैसे भी आपके शत्रु आप पर यकीन नहीं करेंगे।
    ~ Elbert Hubbard
  • मैंने पाया है कि ख़ुशी खोने का एक निश्चित तरीका है कि इसे हर कीमत पर चाहा जाये।
    मैंने पाया है कि ख़ुशी खोने का एक निश्चित तरीका है कि इसे हर कीमत पर चाहा जाये।
    ~ Bette Davis
  • गुस्सा हवा का वह झोंका है जो दिमाग के दिए को बुझा देता है।
    गुस्सा हवा का वह झोंका है जो दिमाग के दिए को बुझा देता है।
    ~ Robert G. Ingersoll
  • सच्ची दोस्ती की एक खूबसूरत खासियत यह कि आप सामने वाले की समझ रखते हैं और सामने वाला आपकी समझ रखता है।
    सच्ची दोस्ती की एक खूबसूरत खासियत यह कि आप सामने वाले की समझ रखते हैं और सामने वाला आपकी समझ रखता है।
    ~ Lucius Annaeus Seneca
  • एक वफादार दोस्त हजार रिश्तेदारों से बेहतर है।
    एक वफादार दोस्त हजार रिश्तेदारों से बेहतर है।
    ~ Euripides
  • मित्रता और पैसा: तेल और पानी।
    मित्रता और पैसा: तेल और पानी।
    ~ Mario Puzo
  • जब महत्त्वाकांक्षाएं ख़त्म होती हैं, तब ख़ुशी शुरू होती है।
    जब महत्त्वाकांक्षाएं ख़त्म होती हैं, तब ख़ुशी शुरू होती है।
    ~ Thomas Merton
  • जब क्रोध आये तो उसके परिणाम पर विचार करो।
    जब क्रोध आये तो उसके परिणाम पर विचार करो।
    ~ Confucius
  • क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात कहने के बजाय दूसरों के ह्रदय को ज्यादा दुखाता है।
    क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात कहने के बजाय दूसरों के ह्रदय को ज्यादा दुखाता है।
    ~ Premchand
  • क्रोध वह तेज़ाब है जो किसी भी चीज जिसपर वह डाला जाये, से ज्यादा उस पात्र को अधिक हानि पहुंचा सकता है जिसमें वह रखा है।
    क्रोध वह तेज़ाब है जो किसी भी चीज जिसपर वह डाला जाये, से ज्यादा उस पात्र को अधिक हानि पहुंचा सकता है जिसमें वह रखा है।
    ~ Mark Twain