• तुझे पल भर को भी भूल जाने की कोशिश कभी कामयाब न हुई;<br/>
तेरी याद शाख-ऐ-गुलाब थी जो हवा चली तो महक उठी!
    तुझे पल भर को भी भूल जाने की कोशिश कभी कामयाब न हुई;
    तेरी याद शाख-ऐ-गुलाब थी जो हवा चली तो महक उठी!
  • बड़ा अजीब सा ज़हर था उसकी याद में;<br/>
सारी उम्र गुजर गयी मुझे मरते मरते!
    बड़ा अजीब सा ज़हर था उसकी याद में;
    सारी उम्र गुजर गयी मुझे मरते मरते!
  • किसी की याद में पलकों पर जो मचलते हैं;<br/>
यह वह चराग हैं जो आँधियों में भी जलते हैं!
    किसी की याद में पलकों पर जो मचलते हैं;
    यह वह चराग हैं जो आँधियों में भी जलते हैं!
  • आप के बाद हर घड़ी हम ने; <br/>
आप के साथ ही गुज़ारी है!
    आप के बाद हर घड़ी हम ने;
    आप के साथ ही गुज़ारी है!
    ~ Gulzar
  • बहुत याद आते हैं तुम्हारे साथ बिताए हुए पल;<br/>
वरना मुझे मर - मर के जीने का कोई शौंक नहीं!
    बहुत याद आते हैं तुम्हारे साथ बिताए हुए पल;
    वरना मुझे मर - मर के जीने का कोई शौंक नहीं!
  • जब हम आपको याद करते हैं, रब से यही फरियाद करते हैं।<br/>
हमारी भी उम्र लग जाये आपको, क्योंकि खुद से ज्यादा हम आपको प्यार करते हैं।
    जब हम आपको याद करते हैं, रब से यही फरियाद करते हैं।
    हमारी भी उम्र लग जाये आपको, क्योंकि खुद से ज्यादा हम आपको प्यार करते हैं।
  • वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,<br/>
उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी!
    वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
    उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी!
  • कभी मिलो तो बताऊँ कैसे तड़पाती हैं आपकी यादें;<br/>
दिल से धड़कन निकाल ले जाती हैं आपकी यादें!
    कभी मिलो तो बताऊँ कैसे तड़पाती हैं आपकी यादें;
    दिल से धड़कन निकाल ले जाती हैं आपकी यादें!
  • तू देख सकता काश रात के पहरे में मुझको;<br/>
कितनी बेदर्दी से तेरी याद मेरी नींद चुरा लेती है!
    तू देख सकता काश रात के पहरे में मुझको;
    कितनी बेदर्दी से तेरी याद मेरी नींद चुरा लेती है!
  • कितनी हसीन हो जाती है उस वक़्त दुनिया;<br/>
जब अपना कोई कहता है तुम याद आ रहे हो!
    कितनी हसीन हो जाती है उस वक़्त दुनिया;
    जब अपना कोई कहता है तुम याद आ रहे हो!