• ज़िंदगी का हर पल खुशियों से कम न हो;<br/>
आपका हर दिन किसी मुबारक दिन से कम न हो;<br/>
ये दिन आपको हमेशा नसीब हो;<br/>
जिसमे कोई दुःख और कोई ग़म न हो।<br/>
रमजान मुबारक!
    ज़िंदगी का हर पल खुशियों से कम न हो;
    आपका हर दिन किसी मुबारक दिन से कम न हो;
    ये दिन आपको हमेशा नसीब हो;
    जिसमे कोई दुःख और कोई ग़म न हो।
    रमजान मुबारक!
  • आसमान पे नया चाँद है आया;<br/>
सारा आलम ख़ुशी से जगमगाया;<br/>
हो रही है सहर-ए-इफ्तार की तैयारी;<br/>
सज रही है दुआओं की सवारी;<br/>
पूरे हों आपके दिल के सब अरमान;<br/>
मुबारक हो आपको प्यारा रमजान।
    आसमान पे नया चाँद है आया;
    सारा आलम ख़ुशी से जगमगाया;
    हो रही है सहर-ए-इफ्तार की तैयारी;
    सज रही है दुआओं की सवारी;
    पूरे हों आपके दिल के सब अरमान;
    मुबारक हो आपको प्यारा रमजान।
  • खुदा का शुक्र है रमजान आया;<br/>
मसीहा बनके है मेहमान आया;<br/>
मेरी आँखें बिछी हैं उसकी राह मे;<br/>
बड़े रुतबे का है सुल्तान आया।<br/>

रमजान मुबारक!
    खुदा का शुक्र है रमजान आया;
    मसीहा बनके है मेहमान आया;
    मेरी आँखें बिछी हैं उसकी राह मे;
    बड़े रुतबे का है सुल्तान आया।
    रमजान मुबारक!
  • रमदान का चाँद देखा, रोज़े की दुआ माँगी;<br/>
रौशन सितारा देखा, आप की खैरियत की दुआ माँगी।<br/>
रमदान मुबारक!
    रमदान का चाँद देखा, रोज़े की दुआ माँगी;
    रौशन सितारा देखा, आप की खैरियत की दुआ माँगी।
    रमदान मुबारक!
  • वो सहरी की ठंडक;
    वो इफ़्तार की रौनक;
    वो आसमान का नूर;
    वो तारों की चमक;
    वो मस्जिदों का संवरना;
    वो मीनारों का चमकना;
    वो मुसलमानों की धूम;
    वो फरिश्तों का हूजूम।
    इन सबके साथ रमदान मुबारक!
  • बरसेगा इंसान पे आज अल्लाह का नूर इस कदर;<br / >
होता है समुन्दर में पानी जिस कदर;<br / >
अगर इबादत में रहे मशरूफ आज हम;<br / >
आज चमकेगा ज़रूर हमारा मुक़द्दर;<br / >
करेगा जो इबादत अगर आज शाम-ओ-सहर;<br / >
अल्लाह की रहमत-ए-नजर होगी उस पर।<br / >
रमदान मुबारक!
    बरसेगा इंसान पे आज अल्लाह का नूर इस कदर;
    होता है समुन्दर में पानी जिस कदर;
    अगर इबादत में रहे मशरूफ आज हम;
    आज चमकेगा ज़रूर हमारा मुक़द्दर;
    करेगा जो इबादत अगर आज शाम-ओ-सहर;
    अल्लाह की रहमत-ए-नजर होगी उस पर।
    रमदान मुबारक!
  • कितनी जल्दी ये अरमान गुजर जाता है;<br/>
प्यास लगती नहीं इफ्तार गुजर जाता है;<br/>
हम गुनाहगारों की मगफिरत कर मेरे अल्लाह;<br/>
इबादत होती नहीं और रमदान गुजर जाता है।
    कितनी जल्दी ये अरमान गुजर जाता है;
    प्यास लगती नहीं इफ्तार गुजर जाता है;
    हम गुनाहगारों की मगफिरत कर मेरे अल्लाह;
    इबादत होती नहीं और रमदान गुजर जाता है।
  • मौसम मस्त है;<br/>
माहौल ज़बरदस्त है;<br/>
रोज़े की तैयारी में सब व्यस्त हैं;<br/>
सोचा था कॉल करके विश कर दें;<br/>
पर पता चला इस रूट की सभी लाइने व्यस्त हैं।<br/>
रमदान मुबारक!
    मौसम मस्त है;
    माहौल ज़बरदस्त है;
    रोज़े की तैयारी में सब व्यस्त हैं;
    सोचा था कॉल करके विश कर दें;
    पर पता चला इस रूट की सभी लाइने व्यस्त हैं।
    रमदान मुबारक!
  • चाँद की पहली दस्तक पे;<br/>
चाँद मुबारक कहते हैं;<br/>
सबसे पहले हम आपको;<br/>
`रमदान मुबारक कहते हैं!`
    चाँद की पहली दस्तक पे;
    चाँद मुबारक कहते हैं;
    सबसे पहले हम आपको;
    "रमदान मुबारक कहते हैं!"
  • रमदान का चाँद देखा;<br/>
रोज़े की दुआ मांगी;<br/>
रोशन सितारा देखा;<br/>
आपकी खैरियत की दुआ मांगी।<br/>
रमदान मुबारक!
    रमदान का चाँद देखा;
    रोज़े की दुआ मांगी;
    रोशन सितारा देखा;
    आपकी खैरियत की दुआ मांगी।
    रमदान मुबारक!