• आप कितने भी पढ़े-लिखे, बुद्धिजीवी क्यों न हो, लेकिन<br/>
अगर आपकी बीवी ने कह दिया कि आप नहीं समझोगे, तो मतलब आप नहीं समझोगे!
    आप कितने भी पढ़े-लिखे, बुद्धिजीवी क्यों न हो, लेकिन
    अगर आपकी बीवी ने कह दिया कि आप नहीं समझोगे, तो मतलब आप नहीं समझोगे!
  • पति-पत्नी की बहस जब हद से बढ़ जाती है तो रिश्ते भी बदल जाते हैं!<br/>
जब परेशान पति चिल्ला कर बोलता है, `चुप हो जा मेरी माँ!`
    पति-पत्नी की बहस जब हद से बढ़ जाती है तो रिश्ते भी बदल जाते हैं!
    जब परेशान पति चिल्ला कर बोलता है, "चुप हो जा मेरी माँ!"
  • पत्नी: आज सब्जी कैसी बनी है?<br/>
पति: तू भी न बस बहाना ढूँढ़ती है लड़ने का!
    पत्नी: आज सब्जी कैसी बनी है?
    पति: तू भी न बस बहाना ढूँढ़ती है लड़ने का!
  • आज का ज्ञान:<br/>
लोग तुम्हारी कितनी भी तारीफ़ क्यों ना कर लें लेकिन...<br/>
बीवी की नज़र में तुम वो पति हो जो भगवान किसी को ना दे!
    आज का ज्ञान:
    लोग तुम्हारी कितनी भी तारीफ़ क्यों ना कर लें लेकिन...
    बीवी की नज़र में तुम वो पति हो जो भगवान किसी को ना दे!
  • शादी से पहले जितना हो सके दुनिया घूम लो,<br/>
क्योंकि शादी के बाद तो दुनिया ही घूम जाती है!
    शादी से पहले जितना हो सके दुनिया घूम लो,
    क्योंकि शादी के बाद तो दुनिया ही घूम जाती है!
  • एक आदमी के पास रात को सांताक्लॉज आया और बोला कि कोई Wish माँगो!<br/>
आदमी बोला कि मेरी बीवी झगड़ा बहुत करती है कोई दूसरी बीवी दिलवा दो!<br/>
सांताक्लॉज ने फिर आदमी को बहुत मारा! फिर पता चला कि आदमी की बीवी ही सांताक्लॉज बन कर आयी थी!
    एक आदमी के पास रात को सांताक्लॉज आया और बोला कि कोई Wish माँगो!
    आदमी बोला कि मेरी बीवी झगड़ा बहुत करती है कोई दूसरी बीवी दिलवा दो!
    सांताक्लॉज ने फिर आदमी को बहुत मारा! फिर पता चला कि आदमी की बीवी ही सांताक्लॉज बन कर आयी थी!
  • पति: मैं तुम्हारे प्यार में ताजमहल बनाऊँगा!<br/>
पत्नी: इसकी ज़रूरत नहीं बस इस सर्दी के मौसम में रोज़ बर्तन धो दिया करो!
    पति: मैं तुम्हारे प्यार में ताजमहल बनाऊँगा!
    पत्नी: इसकी ज़रूरत नहीं बस इस सर्दी के मौसम में रोज़ बर्तन धो दिया करो!
  • आज सुबह बीवी का फोन आया, रो रही थी! मुझको सॉरी भी कहा! उसी रोते हुए स्वर में वह यह भी बोली कि तुमसे कभी झगड़ा नहीं करुँगी, सब कुछ सुनूँगी, जो कहोगे करुँगी! ये सब सुन कर मेरा दिल भर आया! <br/>
पता नहीं किसी बीवी थी! रॉंग नंबर था, लेकिन सुन कर अच्छा लगा!
    आज सुबह बीवी का फोन आया, रो रही थी! मुझको सॉरी भी कहा! उसी रोते हुए स्वर में वह यह भी बोली कि तुमसे कभी झगड़ा नहीं करुँगी, सब कुछ सुनूँगी, जो कहोगे करुँगी! ये सब सुन कर मेरा दिल भर आया!
    पता नहीं किसी बीवी थी! रॉंग नंबर था, लेकिन सुन कर अच्छा लगा!
  • पति: अच्छी लग रही हो!<br/>
पत्नी: एक शेर कहो ना मेरे लिए!<br/>
पति: ये जो लग रही हो तुम इतनी प्यारी, इस पर लग जाती है मेरी तनख्वाह सारी!
    पति: अच्छी लग रही हो!
    पत्नी: एक शेर कहो ना मेरे लिए!
    पति: ये जो लग रही हो तुम इतनी प्यारी, इस पर लग जाती है मेरी तनख्वाह सारी!
  • पति: मेरे लिए तो दूर-दूर से रिश्ते आते थे!<br/>
पत्नी: हाँ, नज़दीक रहने वालों को तो तुम्हारे लक्षण पता चल गए होंगे!
    पति: मेरे लिए तो दूर-दूर से रिश्ते आते थे!
    पत्नी: हाँ, नज़दीक रहने वालों को तो तुम्हारे लक्षण पता चल गए होंगे!