• वक़्त तो सिर्फ वक़्त पे बदलता है, बस इंसान ही है जो किसी भी वक़्त बदल जाता है!<br/>
सुप्रभात!
    वक़्त तो सिर्फ वक़्त पे बदलता है, बस इंसान ही है जो किसी भी वक़्त बदल जाता है!
    सुप्रभात!
  • समस्या आने पर न्याय नहीं समाधान होना चाहिये।<br/>
क्योंकि न्याय में एक के घर दीप जलते हैं, तो दूसरे के घर अँधेरा होता है।<br/>
मगर समाधान में दोनों के घर दीप जलते हैं।<br/>
सुप्रभात!
    समस्या आने पर न्याय नहीं समाधान होना चाहिये।
    क्योंकि न्याय में एक के घर दीप जलते हैं, तो दूसरे के घर अँधेरा होता है।
    मगर समाधान में दोनों के घर दीप जलते हैं।
    सुप्रभात!
  • अगर कोई आपकी उम्‍मीद से जीता है तो आप भी उसके यकीन पर खरा उतरिये,<br/>
क्‍योंकि उम्‍मीद इंसान उसी से रखता है जिसको वो अपने सबसे करीब मानता है।<br/>
सुप्रभात!
    अगर कोई आपकी उम्‍मीद से जीता है तो आप भी उसके यकीन पर खरा उतरिये,
    क्‍योंकि उम्‍मीद इंसान उसी से रखता है जिसको वो अपने सबसे करीब मानता है।
    सुप्रभात!
  • `क्षमता` और `ज्ञान` को, हमेशा `गुरु` बनाओ, `गुरुर` नहीं।<br/>
सुप्रभात!
    "क्षमता" और "ज्ञान" को, हमेशा "गुरु" बनाओ, "गुरुर" नहीं।
    सुप्रभात!
  • शरीर का ब्लड ग्रुप कोई भी हो!<br/>
दिल और दिमाग हमेशा Be Positive होना चाहिए!<br/>
सुप्रभात!
    शरीर का ब्लड ग्रुप कोई भी हो!
    दिल और दिमाग हमेशा Be Positive होना चाहिए!
    सुप्रभात!
  • वक़्त पर बदल तो लोग जाते हैं,<br/>
बदनाम समय को कर देते हैं!<br/>
सुप्रभात!
    वक़्त पर बदल तो लोग जाते हैं,
    बदनाम समय को कर देते हैं!
    सुप्रभात!
  • खुद को 'गलत' भी सही 'इंसान' ही मान सकता है!<br/>
सुप्रभात!
    खुद को 'गलत' भी सही 'इंसान' ही मान सकता है!
    सुप्रभात!
  • जल्दी जागना हमेशा फायदेमंद होता है!<br/>
फिर चाहे वह अपनी नींद से हो, अहम से हो, वहम से हो, या फिर सोये हुए जमीर से हो।<br/>
सुप्रभात!
    जल्दी जागना हमेशा फायदेमंद होता है!
    फिर चाहे वह अपनी नींद से हो, अहम से हो, वहम से हो, या फिर सोये हुए जमीर से हो।
    सुप्रभात!
  • गिले-शिकवे सिर्फ साँस लेने तक ही चलते हैं! बाद में तो सिर्फ पछतावे रह जाते हैं!<br/>
दोनों तरफ से निभाया जाये, वही रिश्ता कामयाब होता है! एक तरफ से सेंक कर तो रोटी भी नहीं बनती!<br/>
सुप्रभात!
    गिले-शिकवे सिर्फ साँस लेने तक ही चलते हैं! बाद में तो सिर्फ पछतावे रह जाते हैं!
    दोनों तरफ से निभाया जाये, वही रिश्ता कामयाब होता है! एक तरफ से सेंक कर तो रोटी भी नहीं बनती!
    सुप्रभात!
  • नादान इंसान ही ज़िन्दगी का असली आनंद लेता है!<br/>
ज़्यादा होशियार तो हमेशा उलझा हुआ रहता है!<br/>
सुप्रभात!
    नादान इंसान ही ज़िन्दगी का असली आनंद लेता है!
    ज़्यादा होशियार तो हमेशा उलझा हुआ रहता है!
    सुप्रभात!