• गुड़ हम हैं और तिल हो आप,<br/>
मिठाई हम हैं और मिठास हो आप,<br/>
आओ मिल कर बनाये इस शाम को कुछ खास <br/>
ये लोहड़ी की शाम हम करते हैं आपके नाम!<br/>
लोहड़ी की शुभकामनायें!
    गुड़ हम हैं और तिल हो आप,
    मिठाई हम हैं और मिठास हो आप,
    आओ मिल कर बनाये इस शाम को कुछ खास
    ये लोहड़ी की शाम हम करते हैं आपके नाम!
    लोहड़ी की शुभकामनायें!
  • घर-घर जाकर माँगे सबसे बच्चे बना-बना कर टोली,<br/>
दे रहे रेवड़ी, मूंगफली, सुन सब उनकी मीठी बोली,<br/>
मिलकर जश्न मनाएंगे अब सभी हो गए हैं तैयार,<br/>
जीवन में ख़ुशियों की ले सौगात, आया है लोहड़ी का त्यौहार!<br/>
लोहड़ी की हार्दिक बधाई!
    घर-घर जाकर माँगे सबसे बच्चे बना-बना कर टोली,
    दे रहे रेवड़ी, मूंगफली, सुन सब उनकी मीठी बोली,
    मिलकर जश्न मनाएंगे अब सभी हो गए हैं तैयार,
    जीवन में ख़ुशियों की ले सौगात, आया है लोहड़ी का त्यौहार!
    लोहड़ी की हार्दिक बधाई!
  • रंग-बिरंगी उड़ी पतंगे आसमान में दौड़ लगातीं,<br/>
लड़ती-भिड़ती हैं आपस में कट कर धरती पर आ जातीं,<br/>
भाग रहे लेने को बालक पतंग गिरे जितनी भी बार,<br/>
ढेरों खुशियाँ लेकर आया जीवन में मकर संक्रांति का ये त्यौहार!<br/>
मकर संक्रांति की शुभकामनायें!
    रंग-बिरंगी उड़ी पतंगे आसमान में दौड़ लगातीं,
    लड़ती-भिड़ती हैं आपस में कट कर धरती पर आ जातीं,
    भाग रहे लेने को बालक पतंग गिरे जितनी भी बार,
    ढेरों खुशियाँ लेकर आया जीवन में मकर संक्रांति का ये त्यौहार!
    मकर संक्रांति की शुभकामनायें!
  • आखिर बन ही गयी, वैक्सीन `कोरोना` की भी;<br/>
एक `इश्क़` ही है, जो `ला-इलाज` रहा!
    आखिर बन ही गयी, वैक्सीन "कोरोना" की भी;
    एक "इश्क़" ही है, जो "ला-इलाज" रहा!
  • आज का ज्ञान:<br/>
लोग तुम्हारी कितनी भी तारीफ़ क्यों ना कर लें लेकिन...<br/>
बीवी की नज़र में तुम वो पति हो जो भगवान किसी को ना दे!
    आज का ज्ञान:
    लोग तुम्हारी कितनी भी तारीफ़ क्यों ना कर लें लेकिन...
    बीवी की नज़र में तुम वो पति हो जो भगवान किसी को ना दे!
  • अगर कोई दोस्त आपका दुःख सुनकर उठ कर चला जाये तो उसे गद्दार नहीं समझना चाहिए!<br/>
हो सकता है वो डिस्पोजेबल गिलास और बोतल लाने गया हो!
    अगर कोई दोस्त आपका दुःख सुनकर उठ कर चला जाये तो उसे गद्दार नहीं समझना चाहिए!
    हो सकता है वो डिस्पोजेबल गिलास और बोतल लाने गया हो!
  • नाश्ते के बाद 11 बजे श्रीमती जी ने गैस चालू किया और कुकर रख दिया और मुझ से कहा, `सीटी गिनना, तीन बजने के बाद गैस बंद कर देना, मैं बाजार जा रही हूँ, शाम को आऊंगी!`<br/>
अब दो बज गए हैं, 147 सीटी हो चुकी हैं... और सीटी बजनी भी बंद हो गई है!<br/>
लेकिन 3 बजने में अभी समय है... पता नहीं क्या करना है?
    नाश्ते के बाद 11 बजे श्रीमती जी ने गैस चालू किया और कुकर रख दिया और मुझ से कहा, "सीटी गिनना, तीन बजने के बाद गैस बंद कर देना, मैं बाजार जा रही हूँ, शाम को आऊंगी!"
    अब दो बज गए हैं, 147 सीटी हो चुकी हैं... और सीटी बजनी भी बंद हो गई है!
    लेकिन 3 बजने में अभी समय है... पता नहीं क्या करना है?
  • रजाई एक नशा है...<br/>
और इस वक़्त मैं नशे में हूँ!
    रजाई एक नशा है...
    और इस वक़्त मैं नशे में हूँ!
  • कमाने पे आऊं तो अंबानी को पीछे भी छोड़ जाऊं!<br/>
लेकिन जब दुनिया से खाली हाथ ही जाना है तो इतना झंझट ही क्यों!
    कमाने पे आऊं तो अंबानी को पीछे भी छोड़ जाऊं!
    लेकिन जब दुनिया से खाली हाथ ही जाना है तो इतना झंझट ही क्यों!
  • अंग्रेजी गाना सुनते समय मुंडी हिलाते रहना चाहिए!<br/>
इससे सामने वाले को लगता है कि आप को गाना समझ आ रहा है!
    अंग्रेजी गाना सुनते समय मुंडी हिलाते रहना चाहिए!
    इससे सामने वाले को लगता है कि आप को गाना समझ आ रहा है!