• महाराष्ट्र में अगर किसी को अपना पुराना मकान फ्री में तुडवाना हो तो...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
आपको ट्विटर पर क्या करना है, आपको पता ही है! मैंने अपना घर थोडा तुडवाना है!
    महाराष्ट्र में अगर किसी को अपना पुराना मकान फ्री में तुडवाना हो तो...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    आपको ट्विटर पर क्या करना है, आपको पता ही है! मैंने अपना घर थोडा तुडवाना है!
  • वो कहती थी गौर करो मेरे इश्क पे;<br/>
मैंने इतना गौर किया कि उसके दो-चार और आशिकों का भी पता चल गया!
    वो कहती थी गौर करो मेरे इश्क पे;
    मैंने इतना गौर किया कि उसके दो-चार और आशिकों का भी पता चल गया!
  • पुराने जमाने में लोग एक दूसरे की `हिम्मत` बढ़ाते थे और आजकल तो `ब्लड प्रेशर` बढ़ा रहे हैं!
    पुराने जमाने में लोग एक दूसरे की "हिम्मत" बढ़ाते थे और आजकल तो "ब्लड प्रेशर" बढ़ा रहे हैं!
  • एक दिन सुबह उठोगे तो अख़बार में लिखा होगा...<br/>
`Govt. of India Pvt. Ltd.`
    एक दिन सुबह उठोगे तो अख़बार में लिखा होगा...
    "Govt. of India Pvt. Ltd."
  • आज कल के लोग पुलिस वालों को देख कर ऐसे मास्क ठीक करते हैं,<br/>
जैसे पुराने ज़माने की बहुएँ, ससुर को ठीक देखकर, घूंघट ठीक करती हैं!
    आज कल के लोग पुलिस वालों को देख कर ऐसे मास्क ठीक करते हैं,
    जैसे पुराने ज़माने की बहुएँ, ससुर को ठीक देखकर, घूंघट ठीक करती हैं!
  • पिछले दौर के लोग भी कुछ कम नहीं थे;<br/>
टीवी एंटेना सेट करते-करते पड़ोसन सेट कर लेते थे!
    पिछले दौर के लोग भी कुछ कम नहीं थे;
    टीवी एंटेना सेट करते-करते पड़ोसन सेट कर लेते थे!
  • हरियाणवी ते मेज़बान ने पूछा, `चौधरी साहब क्या लेंगे आप? हलवा लाऊं या खीर?`<br/>
चौधरी: घर में कटोरी एक ही है के?
    हरियाणवी ते मेज़बान ने पूछा, "चौधरी साहब क्या लेंगे आप? हलवा लाऊं या खीर?"
    चौधरी: घर में कटोरी एक ही है के?
  • कछुआ छाप अगरबत्ती जलाने से मच्छर भी कछुए की चाल काटते रहते हैं लेकिन काटते जरूर हैं!
    कछुआ छाप अगरबत्ती जलाने से मच्छर भी कछुए की चाल काटते रहते हैं लेकिन काटते जरूर हैं!
  • वैक्सीन तो बन नहीं पा रही है किसी से...<br/>
लेकिन अंट-शंट सैनिटाइजर मशीनें बना कर जो पैसे कमा रहे हैं उनको बस यही कहना चाहता हूँ, `शर्म करलो सालो, कुछ तो!`
    वैक्सीन तो बन नहीं पा रही है किसी से...
    लेकिन अंट-शंट सैनिटाइजर मशीनें बना कर जो पैसे कमा रहे हैं उनको बस यही कहना चाहता हूँ, "शर्म करलो सालो, कुछ तो!"
  • हम भारतीयों की बात ही अलग है! हम कोरोना के डर से मास्क नहीं लगाते, बल्कि इसलिए लगाते हैं ताकि...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
पुलिस पकड़ कर कूट न दें, और चालान न काट दे!
    हम भारतीयों की बात ही अलग है! हम कोरोना के डर से मास्क नहीं लगाते, बल्कि इसलिए लगाते हैं ताकि...
    .
    .
    .
    .
    .
    पुलिस पकड़ कर कूट न दें, और चालान न काट दे!