• इश्क मोहब्बत क्या है मुझे नहीं मालूम,<br/>
बस उसकी याद आती है और खडा हो जाता है!
    इश्क मोहब्बत क्या है मुझे नहीं मालूम,
    बस उसकी याद आती है और खडा हो जाता है!
  • हमने तो वफ़ा की थी, पर उसने ही दिल तोडा मेरा;
    फिर एक दिन उसने मैसेज किया, 'याद आती है क्या?'
    हमने भी लिख दिया 'लौड़ा मेरा'!
  • जब जब मैं तेरे बारे में सोचूंगा मेरे अरमान मुझे सताते रहेंगे;
    और इक सवाल हमेशा सताएगा मेरे दिल को;
    कि कब तक तुम जैसे चूतियों को हम दोस्त बनाते रहेंगे!
  • यूँ तो तेरी यादों के साथ रहने से हमें कोई ऐतराज़ नहीं ए हसीना;<br/>
पर हर रात तीन बार कच्छा बदलना भी कुछ असां नहीं होता!
    यूँ तो तेरी यादों के साथ रहने से हमें कोई ऐतराज़ नहीं ए हसीना;
    पर हर रात तीन बार कच्छा बदलना भी कुछ असां नहीं होता!